Search
Close this search box.

व्हाइट हाउस ने किया बड़ा दावा,अपनी सेना की ओर से गुमराह किया हुआ महसूस कर रहे हैं पुतिन

रूस और यूक्रेन में जारी भीषण युद्ध के बाई व्हाइट हाउस ने बताया कि अमेरिका को जानकारी मिली है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अपनी सेना द्वारा गुमराह किया हुआ महसूस कर रहे हैं।

रूस और यूक्रेन में जारी भीषण युद्ध के बाई व्हाइट हाउस ने बताया कि अमेरिका को जानकारी मिली है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अपनी सेना द्वारा गुमराह किया हुआ महसूस कर रहे हैं। व्हाइट हाउस ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि यूक्रेन युद्ध एक रणनीतिक भूल है। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव केट बेडिंगफील्ड ने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, मैं यह कह सकती हूं कि, निश्चित रूप से, हमारे पास जानकारी है कि पुतिन रूसी सेना द्वारा गुमराह किया हुआ महसूस कर रहे हैं, जिसके परिणामस्वरूप पुतिन और उनके सैन्य नेतृत्व के बीच लगातार तनाव बना हुआ है।
पुतिन के वरिष्ठ सलाहकार उन्हें सच बताने से बहुत डरते हैं : बेडिंगफील्ड
बेडिंगफील्ड ने कहा, हमारा मानना ​​है कि पुतिन को उनके सलाहकारों द्वारा इस संबंध में गलत सूचना दी जा रही है कि, रूसी सेना कितना खराब प्रदर्शन कर रही है और रूसी अर्थव्यवस्था को प्रतिबंधों से कैसे पंगु बनाया जा रहा है, क्योंकि उनके वरिष्ठ सलाहकार उन्हें सच बताने से बहुत डरते हैं। उन्होंने ने कहा, इसलिए यह तेजी से स्पष्ट होता जा रहा है कि पुतिन का युद्ध एक रणनीतिक भूल है, जिसने रूस को लंबे समय के लिए कमजोर बना दिया है और विश्व मंच पर वह अलग-थलग पड़ गया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी दोहराया कि राष्ट्रपति जो बाइडन रूस में शासन परिवर्तन की नीति की वकालत नहीं कर रहे हैं।
पहले जो कहा था वह स्वाभाविक आक्रोश से भरा बयान था :  प्रेस सचिव
व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव ने कहा, कुछ दिन पहले उन्होंने जो कहा था वह स्वाभाविक आक्रोश से भरा बयान था, हमारे पास शासन परिवर्तन की औपचारिक नीति नहीं है। हम केवल रूस पर व्यापक प्रतिबंध लगाने पर जोर दे रहे हैं।  उन्होंने कहा, ‘हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि रूस अपनी गलती का परिणाम भुगते। पुतिन ने खुद भी कहा है कि प्रतिबंधों का प्रभाव काफी अधिक होगा। इसलिए, हम यूक्रेन को सुरक्षा सहायता प्रदान करने और रूस पर महत्वपूर्ण प्रतिबंध लगाने की अपनी रणनीति पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।  गौरतलब है कि बाइडन ने पिछले सप्ताह एक भाषण में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बारे में कहा था कि यह शख्स सत्ता में नहीं रह सकता। इसके बाद, व्हाइट हाउस और अन्य अमेरिकी अधिकारियों ने स्पष्ट किया था कि बाइडन असल में पुतिन को बेदखल करने के बारे में बात नहीं कर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।