जेलेंस्की ने कहा- रूस और ड्रोन का इस्तेमाल कर रणनीति में बदलाव लाने की योजना बना रहा

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा है कि ईरान निर्मित हमलावर ड्रोन का इस्तेमाल कर रूस उनके देश पर हमलों में तेजी लाने की तैयारी कर रहा है।

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा है कि ईरान निर्मित हमलावर ड्रोन का इस्तेमाल कर रूस उनके देश पर हमलों में तेजी लाने की तैयारी कर रहा है। उन्होंने कहा कि रूस, अपने 63 सैनिकों के मारे जाने के बीच युद्ध नीति को रणक्षेत्र में झटका लगने के कुछ महीनों बाद कीव पर दबाव बनाने के नए तरीके ढूंढ रहा है। जेलेंस्की ने सोमवार रात अपने वीडियो संबोधन में कहा, ‘‘हमारे पास यह सूचना है कि रूस शाहिद (विस्फोट करने वाले ड्रोन) से हमला करने की योजना बना रहा है।’’ उन्होंने कहा कि यूक्रेन पर रूसी हमला शुरू होने के 10 महीने बाद,‘‘उनका (रूस का) लक्ष्य हमारे लोगों, हमारी वायु रक्षा, हमारी ऊर्जा को खत्म करना है।’’
रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन मास्को के त्रुटिपूर्ण युद्ध प्रयासों को सही साबित करने के तरीके ढूंढ रहे हैं, जिन्हें हाल के महीनों में यूक्रेन के पलटवार से नुकसान पहुंचा है। यूक्रेन को पश्चिमी देश हथियारों की आपूर्ति कर रहे हैं।
Russia Ukraine War: Zelensky Claimed Victory Over The Russian Army-  जेलेंस्की ने रूसी सेना पर किया जीत का दावा, कहा- यूक्रेन ने सभी भ्रम तोड़  दिए
क्रेमलिन को एक और नया झटका देते हुए यूक्रेनी सेना ने पूर्वी दोनेत्स्क क्षेत्र में एक स्थान पर रॉकेट दागे, जहां रूसी सैनिकों को रखा गया था। इस हमले में 63 रूसी सैनिक मारे गये। युद्ध शुरू होने के बाद से रूसी सैनिकों पर किए गए यह सबसे घातक हमलों में से एक है।
रूस के रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि हमले में, यूक्रेन की सेना ने हिमार्स प्रक्षेपण प्रणाली से छह रॉकेट दागे और उनमें से दो को गिरा दिया गया। हालांकि, यूक्रेन के सशस्त्र बलों के सामरिक संचार निदेशालय ने रविवार को दावा किया कि मकीवका में एक व्यावसायिक स्कूल की इमारत में लगभग 400 लामबंद रूसी सैनिक मारे गए और लगभग 300 अन्य घायल हो गए। इन दावों की स्वतंत्र रूप से पुष्टि नहीं हो पायी है। इस बीच, ‘द इंस्टीट्यूट फॉर द स्टडी ऑफ वार’ ने सोमवार को कहा कि पुतिन अपनी रणनीति के लिए रूस में समर्थन जुटाने की कोशिश कर रहे हैं। थिंक टैंक ने कहा, ‘‘यूक्रेन के खिलाफ रूस के हवाई हमले रूसी राष्ट्रवादियों को इच्छित परिणाम नहीं दे रहे हैं।’’
थिंक टैंक ने कहा, ‘‘सेना की इस तरह की बड़ी नाकामी युद्ध समर्थक रूसी समुदाय को रिझाने की पुतिन की कोशिशों को और जटिल बना देगी।’’ वहीं, समाचार वेबसाइट ‘यूक्रिनफॉर्म’ के अनुसार, यूक्रेनी वायु सेना के प्रवक्ता यूरी इहनाट ने मंगलवार को दावा किया कि सितंबर के बाद से यूक्रेन के सशस्त्र बलों ने लगभग 500 ड्रोन को मार गिराया है। यू्क्रेन के राष्ट्रपति कार्यालय के उप प्रमुख केरयलो तायमोशेंको के हवाले से मंगलवार को मीडिया में आई एक खबर में कहा गया है कि एक रूसी मिसाइल ने बीती रात द्रुजकीवका शहर को निशाना बनाया और इस हमले में दो लोग घायल हो गये। अधिकारियों ने बताया कि हमले में आईस हॉकी का एक परिसर तबाह हो गया, जिसे यूक्रेन में सबसे बड़ा हॉकी और स्केटिंग स्कूल बताया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen + 19 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।