अखंड भारत का फिर से निर्माण इस आयोजन का है मूल उद्देश्य- नागमणि कुशवाहा - Latest News In Hindi, Breaking News In Hindi, ताजा ख़बरें, Daily News In Hindi

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

88 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

अखंड भारत का फिर से निर्माण इस आयोजन का है मूल उद्देश्य- नागमणि कुशवाहा

आजअखिल भारतीय युवा कुशवाहा समाज (भारत) के द्वारा कुम्हारार पार्क (सम्राट अशोक किला स्थान) से महान सम्राट अशोक की 2366 वीं जन्मोत्सव के पावन अवसर पर भव्य रथयात्रा का शुभारंभ बौद्ध भिक्षु संघ के बुद्ध वंदना एवं मंगलसूत्र पाठ से हुआ।

पटना पंजाब केसरी :  आजअखिल भारतीय युवा कुशवाहा समाज (भारत) के द्वारा कुम्हारार पार्क (सम्राट अशोक किला स्थान) से महान सम्राट अशोक की 2366 वीं जन्मोत्सव के पावन अवसर पर भव्य रथयात्रा का शुभारंभ बौद्ध भिक्षु संघ के बुद्ध वंदना एवं मंगलसूत्र पाठ से हुआ। बैंड बाजा के राष्ट्रीय धुन के साथ महान सम्राट अशोक का रथ गतिमान हुआ। उनके पीछे सैकड़ों बौद्ध भिक्षु संघ तत्पश्चात विभिन्न विद्यालयों के छात्र ,छात्रा एवं बिहार राज्य समेत देश के कोने-कोने से पधारे अतिथि एवं हजारों की संख्या में स्थानीय नागरिकों  द्वारा सम्राट अशोक अमर रहे, बुद्धम शरणम गच्छामि,हमारा नारा समता मैत्री भाईचारा, चंद्रगुप्त मौर्य अमर रहे का नारा लगाते चल रहे थे।रथ यात्रा का जगह-जगह स्थानीय लोगों द्वारा फूल की वर्षा कर अपनी उल्लास प्रकट कर रहे थे।रथयात्रा दिन के 12:00 बजे दरोगा राय पथ स्थित गौतम बुद्ध विहार पहुंचा, जहां तथागत बुद्ध को नमन कर कार्यक्रम की समाप्ति हुई। राष्ट्रीय अध्यक्ष नागमणि कुशवाहा ने कहा कि प्रत्येक साल की भांति इस साल भी कार्यक्रम का आयोजन का मूल उद्देश्य अखंड भारत का निर्माण फिर से करना है ।साथ ही  उन्होंने भारत सरकार से मांग किया है कि महान सम्राट अशोक के जन्मोत्सव पर राष्ट्रीय अवकाश के साथ राष्ट्रीय समारोह घोषित करे।प्रदेश अध्यक्ष हरिओम कुशवाहा ने कहा कि कुशवाहा समाज का गौरवशाली इतिहास रहा है हमें फिर से सम्राट अशोक कालीन शासन व्यवस्था को अपनाना होगा जिससे आपसी सौहार्द एवं शक्तिशाली राष्ट्र का निर्माण होगा। राष्ट्रीय सलाहकार डाँ मुकेश कुमार ने कहा कि महान सम्राट अशोक  एक ऐसे शासक थे,जिनके शासनकाल में भारत सोने की चिड़िया कहलाता था।देश की शासन प्रणाली और भारत सरकार अशोक स्तम्भ को राष्ट्रीय प्रतीक चिन्ह मानती है, जबकि ऐसे महान जननायक की जयंती भारत सरकार द्वारा नहीं मनाई जाती है।जो की दुःख की बात है।
इस अवसर पर बिहार सरकार के पंचायतीराज विभाग के  मंत्री सम्राट चौधरी, पूर्व मंत्री भगवान सिंह कुशवाहा,बिहार विधान परिषद सदस्य सी.पी सिन्हा,पूर्व विधान परिषद सदस्य उपेंद्र प्रसाद,जे.पी.वर्मा,श्रीनाथ सिंह बौद्ध, ब्रजकिशोर सिंह कुशवाहा, अखिलेश कुमार सिंह,डॉ अरुण कुमार शांतनु, शंकर मेहता,नरेश कुमार,अमन कुशवाहा, मधु मंजरी,अचार्य मुन्ना प्रसाद,ई.रामचरित्र प्रसाद,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंद्रभान सिंह कुशवाहा,राष्ट्रीय संगठन सचिव जयप्रकाश मौर्या,प्रदेश उपाध्यक्ष सुनील कुशवाहा,राजेश कुशवाहा, गणेश शंकर कुशवाहा, प्रदेश प्रधान महासचिव रजनीश गांधी,पटना जिला अध्यक्ष अजीत कुमार वर्मा, मुन्ना महतो,रणधीर कुमार वर्मा,समेत हजारों की संख्या में संगठन के पदाधिकारी एवं अतिथि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen + 14 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।