संसद सुरक्षा उल्लंघन: क्राइम सीन को रीक्रिएट करने के लिए आरोपियों को ले जाएगी पुलिस-Parliament Security Breach: Police Will Take The Accused To Recreate The Crime Scene

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

88 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

संसद सुरक्षा उल्लंघन: क्राइम सीन को रीक्रिएट करने के लिए आरोपियों को ले जाएगी पुलिस

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल संसद की सुरक्षा में सेंध लगाने के मामले में पकड़े गए आरोपियों को पूरे क्राइम सीन को रीक्रिएट करने के लिए ले जाएगी। जांच से जुड़े एक सूत्र ने शनिवार को यह जानकारी दी।

HIGHLIGHTS

  • संसद की सुरक्षा में सेंध लगाने के मामले में पकड़े गए आरोपी
  • आरोपियों को पूरे क्राइम सीन को रीक्रिएट करने के लिए ले जाएगी
  • दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल क्राइम सीन को रीक्रिएट करवाएगी

 

अपराधी को संसद में अपराध की पुनरावृत्ति से गुजरना होगा

सूत्रों से संकेत मिलता है कि कथित अपराधी को संसद में अपराध की पुनरावृत्ति से गुजरना होगा, जिससे पुलिस को कलर स्प्रे के साथ बिल्डिंग में अपराधी के प्रवेश और उनकी योजना के क्रियान्वयन को समझने में सुविधा होगी। कथित तौर पर, स्पेशल सेल आरोपियों के साथ जाएगी और उन्हें संसद परिसर के प्रवेश द्वार से इमारत के भीतर घटना को सावधानीपूर्वक दोहराने के लिए मार्गदर्शन करेगी। चल रही संसदीय कार्यवाही के कारण, स्पेशल सेल की टीम को शुक्रवार को गिरफ्तारी के बाद के दृश्य को दोबारा बनाने में चुनौतियों का सामना करना पड़ा। उम्मीद है कि टीम शनिवार या रविवार को खेल आयोजित करेगी जब संसद का सत्र नहीं चल रहा हो। पांच आरोपियों की पहचान मैसूरु निवासी मनोरंजन डी, लखनऊ निवासी सागर शर्मा, हरियाणा के जिंद निवासी नीलम, महाराष्ट्र के लातूर निवासी अमोल शिंदे और पश्चिम बंगाल निवासी ललित झा के रूप में की गई है।

अभियोजन पक्ष ने गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों को आतंकवादी बताया

पार्लियामेंट स्ट्रीट पुलिस स्टेशन में उनके और बोहर के मूल निवासी ललित झा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है, जिसमें आईपीसी की धारा 120-बी, 452, 153, 186 और 353 के साथ-साथ यूएपीए की धारा 16 और 18 शामिल हैं। अदालती कार्यवाही के दौरान, अभियोजन पक्ष ने गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों को आतंकवादी बताया और कहा कि उन्होंने डर पैदा करने के इरादे से संसद पर सुनियोजित हमला किया था। पुलिस ने अदालत को सूचित किया कि उन्होंने आरोपियों के खिलाफ आरोपों में यूएपीए की धारा 16 (आतंकवाद) और 18 (आतंकवाद की साजिश) शामिल की है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 + 19 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।