Vehicle Road Accident: ड्राइविंग करते समय वाहन में लगे आग तो ऐसे बचाएं अपनी जान

आए दिन सड़क पर कार में आग लगने से कई बड़ी दुर्घटनाएं हो जाती हैं जो लोग कार, मालवाहक या कोई भी वाहन चलाते हैं उनको बहुत ही सावधान रहकर वाहन चलाना चाहिए जिससे जान को कोई खतरा न रहे। कई बार चालक की लापरवाही और शॉर्ट सर्किट होने की वजह से वाहन में आग लग जाती है और बड़ी सड़क दुर्घटना होती है जिसमें वाहन चालक समेत यदि वाहन में कोई अन्य व्यक्ति मौजूद है तो उसकी जान को भी खतरा बन जाता है। यदि आप भी कार या कोई अन्य वाहन चलाते हैं या आपके घर में कोई वाहन का उपयोग करता है तो आपको वाहन चलाते समय कुछ सावधानी बरतने की जरुरत है। पिछले कुछ समय से लगातार रोड एक्सीडेंट के बाद वाहन में आग लगने की घटनाएं सामने आ रही हैं जिसमें कई लोग घायल और कई मौत का शिकार हो जाते हैं। जानकारी के लिए बता दें की बीती रात भी नोएडा एक्सप्रेसवे पर एक भीषण सड़क कार एक्सीडेंट में 1 की मौत और 9 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इसके अलावा Punjab के होशियारपुर में आज सुबह ट्रक-कार की टक्कर में चार लोगों की मौत हो गई और एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। अधिकारियों ने बताया कि कार में आग लग गई और ट्रक पलट गया। पुलिस मौके पर पहुंची और राहगीरों की मदद से घायलों को दसूहा के सरकारी अस्पताल पहुंचाया। घायलों की हालत को देखते हुए उन्हें अमृतसर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। आये दिन हो रहे सड़क हादसे लोगों में मौत की वजह बन रहे हैं। कार में आग लगने से कई जानी-मानी हस्तियां भी मरते मरते बची हैं इसका सबसे बड़ा उदहारण हैं फेमस बल्लेबाज ऋषब पंत, कुछ समय पहले ऋषभ पंत एक बड़ी सड़क दुर्घटना का शिकार हुए थे जिसमें उनकी कार में आग लग गयी थी।

रोड एक्सीडेंट को लेकर क्या कहती है रिपोर्ट?

2 25

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री के द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार साल 2022 रोड एक्सीडेंट बहुत अधिक हुए हैं। साल 2022 में देशभर में 4, 61, 312 रोड एक्सीडेंट के मामले दर्ज किये गए। इन रोड एक्सीडेंट में 1, 68, 491 लोगों की मौत हुई थी। इसके अलावा इस साल रोड एक्सीडेंट में 4,43, 366 लोग घायल हुए थे। रिपोर्ट में एक बात सामने यह आई की साल 2021 के मुकाबले साल 2022 में सड़क हादसे ज्यादा हुए हैं। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के रिपोर्ट के अनुसार रोड एक्सीडेंट होने का सबसे बड़ा कारण नियमों के अनुसार वाहन न चलाना है। इसके अलावा भी रोड एक्सीडेंट होने के कई बड़े कारण बताये गए जैसे शीट बेल्ट न पहनना, शराब पीकर वाहन चलाना, वाहन को तेज रफ़्तार में चलाना। न सिर्फ कार से बल्कि टू-व्हीलर भी हादसों का शिकार होते हैं जबकि कारों से ज्यादा टू-व्हीलर के एक्सीडेंट होते हैं इसलिए टू-व्हीलर चलाते समय हेलमेट पहनने का विशेष ध्यान रखें।

आखिर क्यों लगती है वाहन में आग?

4 18

सड़क दुर्घटना के बाद वाहन धूं-धूं करके जलने लगता है जिससे जान को खतरा होता है फायर बिर्गेड के कुछ अधिकारियों के मुताबिक जब वाहन बनता है तो उसमें बैटरी और CNG गैस फिटिंग की सही से नहीं की जाती है जिससे वाहन में आग लगने का खतरा रहता है इस लापरवाही के कारण कई बार बिना किसी दुर्घटना के भी ब्लास्ट हो सकता है। इसके अलावा यदि बैटरी का प्वाइंट और उसके ऊपर लगी वायर केबल का कनेक्शन ढीला है इससे भी आग लगने का खतरा दोगुना हो जाता है। कई बार ढीले कनेक्शन से वाहन में शार्ट सर्किट हो जाता है जिससे आग लग सकती है। कई बार कार ने कम ख़र्च करने के चक्कर में लोग अपनी कारों में गैरकानूनी गैस किट लगवाते हैं जिससे आग का खतरा बढ़ जाता है, इसके अलावा तेज वाहन चलाने से भी भी आग लगने का खतरा रहता है।

कुछ दर्दनाक वाहन दुर्घटनाएं

देश में न जानें ऐसी कितनी ही घटनाएं हुईं हैं जिनमें लोगों ने अपनी जान गवाईं हैं यहां हम आपको कुछ ऐसी ही घटनाओं के बारे में जानकारी देने वाले हैं।

  • साल 2023 में 15 नवम्बर के दिन दिल्ली से दरभंगा की ओर डबल डेकर बस नोएडा से ग्रेटर नोएडा-आगरा एक्सप्रेसवे पर 100 मीटर तक ऊपर की तरफ चली गई थी, गनीमत यही रही कि हादसे में किसी को कोई चोट नहीं आई।
  • एक सड़क हादसे साल 2023 में 25 नवम्बर के दिन सेक्टर-113 क्षेत्र के सेक्टर-119 स्थित आम्रपाली प्लेटिनम सोसायटी के एकदम बाहर कार में तेज आग लगने से हुई जिसमें 2 लोग मौत का शिकार हो गए। इसके अलावा साल 2023 में 2 फरवरी के दिन एक जानी-मानी कार मर्सिडीज पेड़ से जा भिड़ी जिसमें एक व्यक्ति को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।
  • इसके अलावा साल 2023 में 17 जून के दिन नोएडा में एक नईं रेंजरोवर का भीषण हादसा हो गया। कार में बैठा चालक कार से कूद गया और उसकी जान बची।
  • साल 2023 में 22 नवंबर के दिन नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर एक चलती कार के बोनेट से आचनक धुंआ निकलने लगा ड्राइवर चौंका इतने में वह और तेज हो गया इससे घबराया ड्राइवर ने तेजी से अपनी कार साइड में लगाई और कार से बाहर जाकर अपनी जान बचाया।

वाहन में आग लगने पर अपनाएं ये तरीके

5 25

कार में आग लगने से बचने के लिए अपनी कार की रोजाना चेकिंग करें, यदि कोई भी खराबी कार में आई है तो उसको ठीक अवश्य कराएं। बिना कार को ठीक कराए उसको न चलाएं उसे तुरंत ठीक कराएं। यदि कार में आग लग गई है तो उसके लिए अपनी कार में हमेशा फायर एक्सटिंग्विशर रखें। बहुत से लोग कार में बैठकर धूम्रपान करने लगते हैं इससे आपको बचना चाहिए विशेषतौर पर उन लोगों को जिनकी कार CNG वाली है। एक बात का विशेष ध्यान रखें कि, इंजन का तापमान हमेसा कंट्रोल में रहे। कार में इंजन ऑयल का लेवल सही रहे। अपनी कार के इलेक्ट्रिकल सिस्टम को देखें, समय-समय पर उसकी जांच करें।

ड्राइविंग करते समय वाहन में रखें चीजें

अपनी कार में आग से बचने के लिए कुछ चीजों को जरूर रखें। एक ऐसा उपकरण कार में रखें जो समय पर आग बुझाने में कारगर साबित हो। आप अपनी कार में हथौड़ी और कैंची जरूर रखें। यदि आपकी कार में आग लग गई है तो हथौड़ी का उपयोग करके कार का सीसा तोड़ें और बाहर निकल जाएँ। इसके अलावा यदि कार में आग लग गई है और आपकी सीट बेल्ट किसी तरह फस गई है उस दौरान कैंची आपकी मदद करेगी, आप कैंची को इस तरह उपयोग में ले सकते हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven − six =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।