साहिबगंज: अवैध माइनिंग स्कैम में CBI सीएम हेमंत के करीबी पंकज मिश्र सहित आठ के ठिकानों पर छापा

 

झारखंड के साहिबगंज में अवैध माइनिंग स्कैम में सीबीआई सीएम हेमंत सोरेन के विधानसभा क्षेत्र प्रतिनिधि पंकज मिश्र के अलावा आठ लोगों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। बताया गया है कि छोटू यादव, दाहू यादव और अवैध माइनिंग स्कैम में लिप्त लोगों के ठिकानों पर गुरुवार सुबह से सीबीआई की आठ टीमें तलाशी ले रही हैं।

HIGHLIGHTS

  • अवैध माइनिंग स्कैम में सीबीआई मार रही छापे
  • सीएम हेमंत के करीबी पंकज मिश्र सहित आठ के ठिकानों पर छापा
  • सीबीआई की आठ टीमें तलाशी ले रही

 

ईडी ने एक दर्जन से ज्यादा अभियुक्तों को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा

यह स्कैम ईडी की छापेमारियों के बाद उजागर हुआ था। ईडी के मुताबिक साहिबगंज में करीब अवैध माइनिंग के कारोबार के जरिए एक हजार करोड़ से भी ज्यादा की मनी लॉन्ड्रिंग हुई है। इस मामले में ईडी ने एक दर्जन से ज्यादा अभियुक्तों को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा है। जेल में बंद अभियुक्तों में सीएम हेमंत सोरेन के विधानसभा क्षेत्र प्रतिनिधि पंकज मिश्रा भी शामिल हैं। इस मामले में झारखंड हाईकोर्ट के आदेश पर अगस्त महीने से सीबीआई ने भी जांच शुरू की है। कोर्ट ने यह आदेश विजय हांसदा नामक व्यक्ति की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया था। इस घोटाले में ईडी ने विजय हांसदा को गवाह भी बनाया था, लेकिन कोर्ट में गवाही के दौरान वह मुकर गया था।

विजय हांसदा के गवाही से मुकरने के मामले की भी जांच

ईडी अब विजय हांसदा के गवाही से मुकरने के मामले की भी जांच कर रही है और इस मामले में साहिबगंज के एसपी तक से पूछताछ कर चुकी है। यह भी बता दें कि सीबीआई जांच के हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती देते हुए पंकज मिश्र ने सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर की थी। लेकिन, सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस एसवीएन भट्टी की बेंच ने हाईकोर्ट के आदेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 + one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।