कोई सत्ता विरोधी लहर नहीं, CM गहलोत बोले- कांग्रेस फिर से राजस्थान में बनाएगी सरकार

Rajasthan Election 2023:  राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान जारी है। तमाम सियासी दल खुद की जीत के दावे कर रहे हैं। राज्य में भाजपा और कांग्रेस के बीच मुकाबला माना जा रहा है। इस बीच, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस के खिलाफ कोई ‘सत्ता विरोधी’ लहर नहीं है और कांग्रेस की फिर से सरकार बनेगी।

HIGHLIGHTS

  • CM अशोक गहलोत ने जोधपुर में डाला वोट
  • ‘यह चुनाव मोदी का नहीं…’, गहलोत ने ठोका जीत का दावा
  • भाजपा नेताओं ने ‘भड़काऊ भाषा’ का इस्तेमाल किया, गहलोत का आरोप

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जोधपुर में मतदान किया। मतदान के बाद उन्होंने कहा, ‘‘राजस्थान में जो माहौल है उसके अनुसार हम कह सकते हैं कि सरकार हमारी बनेगी। राजस्थान में ‘अंडरकरंट’ (समर्थन की शांत लहर) है।’’ गहलोत ने कहा कि भाजपा के पक्ष में ‘अंडरकरंट’ होने का पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का दावा खोखला है। गहलोत ने कहा, ‘‘उनके दावे खोखले हैं…हमारा दावा ठोस है।’’ उन्होंने कहा कि राजस्थान में चुनाव प्रचार के लिए बाहर से आए भाजपा नेता 5 साल तक यहां नजर नहीं आएंगे।

‘मोदी की गारंटी फेल हो गई’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा के चुनाव अभियान के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘यह चुनाव मोदी का नहीं… विधानसभा चुनाव है। आज के बाद ये सब लोग गायब हो जाएंगे, 5 साल बाद आएंगे। हम लोग यहीं रहेंगे। जनता के बीच जाएंगे उनके सुख दुख में भागीदार रहेंगे। विकास की बात करेंगे। वे नहीं आने वाले।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारी गारंटियों की साख बहुत अधिक है। हमारी गारंटी काम करेगी। मोदी की गारंटी फेल हो गई है… सरकार इस बार फिर बनेगी।’’

इससे पहले मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने अपना अभियान विकास के मुद्दों पर केंद्रित किया जबकि प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों सहित भाजपा नेताओं ने ‘भड़काऊ भाषा’ का इस्तेमाल किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री समेत बाहर से आए भाजपा नेताओं ने लोगों को भड़काने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ”जनता समझ गई है। ऐसा लगता है कि कांग्रेस सरकार दोबारा आएगी।”

गहलोत का भाजपा पर वार

भाजपा द्वारा ‘लाल डायरी’ और अन्य मुद्दों पर केवल गहलोत को ही निशाना बनाए जाने संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा नेताओं के दिल में टीस है कि वे खरीद-फरोख्त के तमाम प्रयासों के बावजूद राज्य की चुनी हुई सरकार नहीं गिरा सके।’’ आपको बता दें, बर्खास्त किए गए एक मंत्री ने दावा किया था कि लाल डायरी में मुख्यमंत्री और कई नेताओं के अवैध वित्तीय लेनदेन का ब्योरा है। राजस्थान की 199 विधानसभा सीटों के लिए शनिवार सुबह मतदान शुरू हुआ। गंगानगर जिले के करणपुर में कांग्रेस उम्मीदवार गुरमीत सिंह कुन्नर की मृत्यु के बाद चुनाव स्थगित कर दिया गया है।

 

 

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।