Search
Close this search box.

Jammu- Kashmir: कश्मीर में ठंड का कहर जारी, जम्मू में राहत की सांस

Jammu- Kashmir

Jammu- Kashmir: गुरुवार को जम्मू के तापमान में सुधार देखने को मिला। वहीं अगले सात दिनों के दौरान कश्मीर में बर्फबारी की कोई संभावना नहीं है, लेकिन माैैसम ठंडा बना रहेगा। मौसम विभाग ने कहा कि अगले सात दिनों के दौरान जम्मू-कश्मीर के मौसम में कोई बड़ा बदलाव देखने को नहीं मिलेगा। जम्मू में गुरुवार को तापमान में सुधार हुआ, बुधवार को न्यूनतम तापमान 5.7 जबकि अधिकतम 20.6 था।

  • गुरुवार को जम्मू के तापमान में सुधार देखने को मिला
  • अगले सात दिनों तक कश्मीर में बर्फबारी की कोई संभावना नहीं है
  • अगले सात दिनों तक J-K के मौसम में कोई बड़ा बदलाव देखने को नहीं मिलेगा
  • जम्मू में बुधवार को न्यूनतम तापमान 5.7 जबकि अधिकतम 20.6 था

कहां कितना रहा तापमान

taampam

गुरुवार को श्रीनगर का न्यूनतम तापमान माइनस 4.6 था, जबकि गुलमर्ग और पहलगाम का तापमान माइनस 4.5 और माइनस 5.8 था। लद्दाख क्षेत्र में, लेह शहर में न्यूनतम तापमान माइनस 13.8, कारगिल में माइनस 11.8 और द्रास में माइनस 13.1 रहा। जम्मू में 5.7, कटरा में 6.2, बटोट में 2.4, भद्रवाह में माइनस 0.3 और बनिहाल में माइनस 0.8 तापमान रहा।

30 जनवरी तक रहेगी चिल्लई कलां अवधि

kashmi

कड़ाके की ठंड की 40 दिनों की लंबी अवधि जिसे ‘चिल्लई कलां’ के नाम से जाना जाता है, 21 दिसंबर को शुरू हुई और 30 जनवरी को समाप्त होगी। अब तक, चिल्लई कलां के दौरान कश्मीर में कोई बर्फबारी नहीं हुई है। चिल्लई कलां में बर्फबारी न होना गर्मियों के लिए आपदा का कारण बनता है क्योंकि कश्मीर में सभी जल निकाय ऊंचे इलाकों में बारहमासी जल जलाशयों पर निर्भर हैं जो सर्दियों के महीनों के दौरान पर्याप्त बर्फबारी से भर जाते हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 + ten =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।