बांग्लादेशी घुसपैठियों पर नियंत्रण के लिए Jharkhand में लागू हो NRC: निशिकांत दुबे

Jharkhand

भारतीय जनता पार्टी के सांसद निशिकांत दुबे ने Jharkhand के जामताड़ा, गोड्डा और देवघर क्षेत्रों में बांग्लादेशी घुसपैठियों के केंद्र बन जाने का आरोप लगाते हुए यहां राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) का एक केंद्र स्थापित करने और NRC (राष्ट्रीय नागरिक पंजी) सबसे पहले इन क्षेत्रों में लागू करने की मांग केंद्र सरकार से की। निशिकांत दुबे ने शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए कहा कि उनके क्षेत्र में पिछले 20-25 साल में जनसांख्यिकी में बदलाव हुआ है।

  • निशिकांत दुबे ने सबसे पहले झारखंड में NRC लागू की मांग की
  • निशिकांत ने देवघर क्षेत्रों में घुसपैठियों के केंद्र बन जाने का आरोप लगाया
  • निशिकांत दुबे ने शून्यकाल में इस विषय को उठाया

झारखंड में घटी आदिवासी आबादी- निशिकांत

Nishikant Dubey3

उन्होंने कहा, पिछले 20-25 साल से राजनीतिक स्थितियों के कारण एक ऐसा कॉरिडोर बन रहा है जो असम के लखीमपुर से बारपेटा और नोगांव होते हुए पश्चिम बंगाल के मालदा, मुर्शिदाबाद, बिहार के किशनगंज, अररिया, पूर्णिया, कटिहार से होकर मेरे राज्य झारखंड में पाकुड़, साहिबगंज, गोड्डा, जामताड़ा और देवघर तक आता है जो बांग्लादेशी घुसपैठियों के बड़े केंद्र बन गए हैं। अलग-अलग समय पर वोट बैंक की राजनीति के कारण राजनीतिक दल इनकी मदद करते रहे हैं। निशिकांत दुबे ने दावा किया कि झारखंड में पहले आदिवासियों की आबादी 36 प्रतिशत होती थी जो अब 26 प्रतिशत हो गई है क्योंकि बांग्लादेशी घुसपैठिये आदिवासी महिलाओं से शादी कर रहे हैं।

विपक्षी दलों पर साधा निशाना

Nishikant Dubey2

उन्होंने दावा किया कि पूरे देश में परिसीमन हो गया लेकिन झारखंड में यह कवायद नहीं हुई है क्योंकि आदिवासी जनसंख्या मुसलमानों के कारण घट गई और एक लोकसभा सीट और तीन विधानसभा सीट आरक्षण से बाहर हो जाएंगी, इसलिए परिसीमन नहीं हो पाया। निशिकांत दुबे ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा, हम अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के उत्थान की बात करते हैं। लेकिन प्रत्येक राजनीतिक दल वोट बैंक की राजनीति के लिए बांग्लादेशी घुसपैठियों का समर्थन करता है। उन्होंने कहा कि बांग्लादेशी मुस्लिम आदिवासियों से शादी कर रहे हैं, इसलिए जनजातीय आबादी कम हो रही है इस पर रोक लगाई जानी चाहिए। निशिकांत दुबे ने कहा, बांग्लादेशी घुसपैठिये हमारी जमीन पर कब्जा कर रहे हैं, इस पर रोक लगाईए। उन्होंने कहा कि झारखंड के जामताड़ा, देवघर और गोड्डा साइबर अपराध के गढ़ बनते जा रहे हैं, इस ओर ध्यान देते हुए सरकार को यहां NIA का एक केंद्र स्थापित करना चाहिए और देश में सबसे पहले NRC इन क्षेत्रों में लागू करनी चाहिए ताकि हम बांग्लादेशी घुसपैठियों से अपना बचाव करें।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।