लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

पिच विवाद पर Shoaib Malik-Misbah Ul haq ने हेटर्स को दिखाया आईना, दिया करारा जवाब

भारत के सेमीफाइनल मुकाबले में BCCI पर एक आरोप लगता है की उन्होंने मैच होने से पहले पिच बदली है। अब इस बात को लेकर ICC ने BCCI से जवाब माँगा था. लेकिन सबसे बड़ा सवाल की क्या सच में भारत ने पिच बदली अगर बदली तो क्यों और फिर इसको लेकर सवाल उठना चालू हो गये. बतादे की पाकिस्तान के कुछ खिलाड़ियों ने BCCI पर यह आरोप लगाया था, इसके बाद इस पाकिस्तान के कुछ खिलाड़ियों ने इसका बहिस्कार भी किया।123abc 123abc

दरअसल, मैच से पहले ये बात सामने आई कि वानखेड़े स्टेडियम में पहले से तय पिच बदल दी गई है. ऐसा कहा गया कि BCCI ने इस मैच को जानबूझकर स्लो पिच पर कराने का फैसला किया है, ताकि इंडियन स्पिनर इसका फायदा उठा सके. लेकिन मैच में ऐसा कुछ भी देखने को नहीं मिला. मैच के पहले पिच को लेकर पाकिस्तान के कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने सवाल किए थे, लेकिन बाद में दिग्गज खिलाड़ियों ने पिच की खूब तारीफ की. Shoaib Malik-Misbah Ul haq ने कहा,aaaa123aa123

Shoaib Malik-Misbah Ul haq: जिस पिच पर 700 से ज्यादा रन बन सकते हैं, उसको लेकर तो कोई सवाल होना ही नहीं चाहिए. ये फेयर पिच थी. अगर कोई टीम टॉस हार जाए तो सेकेंड इनिंग में उनके लिए बैटिंग मुश्किल हो जाए और वो मैच हार जाए. इस चीज को खत्म करने के लिए पिच में थोड़े बदलाव किए गए. और ये फैसला काफी सही रहा. हमें इसकी तारीफ करनी चाहिए.Shoaib Malik

यह थी कंट्रोवर्सी

रिपोर्ट्स् के मुताबिक़ ये सेमीफ़ाइनल मैच पहले वानखेड़े स्टेडियम की पिच नंबर-7 पर खेला जाना था. हालांकि, मैच पिच नंबर-6 पर खेला गया. पिच नंबर-7 की बात करें तो वो फ्रेश थी, यानी उसपर अब तक इस टूर्नामेंट में एक भी मैच नहीं खेला गया था. ऐसे में उस पिच पर फास्ट बॉलर्स को मदद मिलने की उम्मीद थी. जबकि, पिच नंबर-6 पर इस टूर्नामेंट के पहले ही दो मैच खेले जा चुके थे. यानी ये पिच थोड़ी पुरानी हो चुकी थी. जिस वजह से ऐसा माना जा रहा था कि ये पिच स्पिनर्स के लिए मददगार साबित होगी.pjimage 2020 08 09t143108 1596963673

ICC ने क्या कहा

इतने लंबे इवेंट्स के आखिर में पिच रोटेशन होते हैं, ये आम बात है. ऐसा पहले भी कई बार हो चुका है. वेन्यू क्यूरेटर की सिफ़ारिश और होस्ट से बातचीत कर ये फैसला लिया गया. ICC का अपना पिच कन्सल्टेंट होता है. उन्हें इस बारे में जानकारी दे दी गई थी. उनका मानना है कि जो पिच इस्तेमाल की जा रही है, उसपर भी अच्छा क्रिकेट खेला होगा.371387

बताते चलें कि इंडियन टीम अब 19 नवंबर को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में फाइनल मैच खेलने उतरेगी. अब उनके सामने ऑस्ट्रेलिया या साउथ अफ्रीका में कौन सी टीम होगी, इसका फैसला 16 नवंबर को हो जा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 − three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।