कई विवादों और आरोप-प्रत्यारोप के बीच सुर्खियों में बनी रही भारत जोड़ो यात्रा

कभी राहुल गांधी की ‘बर्बरी टी-शर्ट’ तो कभी विनायक दामोदर सावरकर पर उनकी टिप्पणी तथा कई बार कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच आरोप-प्रत्यारोप ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को समय-समय पर सुर्खियों में बनाए रखा। यात्रा पिछले साल सात सितंबर को कन्याकुमारी से आरंभ हुई थी और उसी समय ही विवादों की शुरुआत हुई।

कभी राहुल गांधी की ‘बर्बरी टी-शर्ट’ तो कभी विनायक दामोदर सावरकर पर उनकी टिप्पणी तथा कई बार कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच आरोप-प्रत्यारोप ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को समय-समय पर सुर्खियों में बनाए रखा। यात्रा पिछले साल सात सितंबर को कन्याकुमारी से आरंभ हुई थी और उसी समय ही विवादों की शुरुआत हुई। भाजपा ने राहुल गांधी की ‘बर्बरी’ ब्रांड की टी-शर्ट को लेकर सवाल उठाए जिसके जवाब में मुख्य विपक्षी पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘10 लाख के सूट’ का विषय उठाकर पलटवार किया। यात्रा के संदर्भ में कांग्रेस और भाजपा के बीच वाकयुद्ध की यह शुरुआत थी। इसके बाद दोनों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला चल पड़ा।
1674904381 untitled 4 copy
कोच्चि के निकट यात्रा के प्रचार से जुड़े पोस्टर पर सावरकर की तस्वीर 
केरल में एक विवादित ईसाई धर्मगुरू से राहुल गांधी की मुलाकात के वीडियो को लेकर भाजपा ने विपक्षी दल पर प्रहार किया जिसके बाद कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से खाकी हॉफ पैंट में आग लगाने से जुड़ी तस्वीर साझा करके तंज कसा गया। कांग्रेस को उस समय असहज स्थिति का सामना करना पड़ा जब कोच्चि के निकट यात्रा के प्रचार से जुड़े पोस्टर पर सावरकर की तस्वीर लगी थी। एरनाकुलम जिला कांग्रेस कमेटी ने राहुल गांधी और ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के स्वागत के लिए व्यापक तैयारी की थी और उसी दौरान एक पोस्टर पर सावरकर की तस्वीर देखी गई। बाद में इसके लिए कांग्रेस के एक कार्यकर्ता को निलंबित कर दिया गया।
1674904729 untitled 4 copy
राहुल गांधी इराक के पूर्व तानाशाह सद्दाम हुसैन की तरह लग रहे 
राहुल गांधी के लंबी दाढ़ी रखने के बाद इसको लेकर भी कांग्रेस और भाजपा के बीच वार-पलटवार देखने को मिला। असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व सरमा ने गुजरात में एक सभा के दौरान कह दिया कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इराक के पूर्व तानाशाह सद्दाम हुसैन की तरह लग रहे हैं। इस पर कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा नेता सरमा ‘ट्रोल’ की तरह हैं। ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान कई मौके आए जब कांग्रेस के लिए असहज और चुनौती पैदा करने वाली स्थिति पैदा हुई। महाराष्ट्र में इस यात्रा के रहने के दौरान राहुल गांधी ने सावरकर की ‘दया याचिकाओं’ का उल्लेख किया तो महाराष्ट्र में उसकी सहयोगी शिवसेना (उद्धव) ने इसका खुलकर विरोध किया।
सचिन पायलट को कह ‘गद्दार’ 
यात्रा जब मध्य प्रदेश में थी तो उस समय राजस्थान में कांग्रेस के भीतर घमासान शुरू हो गया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक साक्षात्कार में पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को ‘गद्दार’ कह दिया। कांग्रेस ने आनन-फानन में स्थिति को संभाला और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने राजस्थान में यात्रा के प्रवेश करने से पहले गहलोत और पायलट के बीच सुलह का रास्ता तैयार किया। कांग्रेस और भाजपा के बीच उस समय भी आरोप-प्रत्यारोप देखने को मिला जब भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन और पूर्व सेना प्रमुख दीपक कपूर राहुल गांधी के साथ इस यात्रा में शामिल हुए।
जयराम रमेश ने जोशी से माफी की मांग की
यात्रा के दिल्ली में प्रवेश करने के बाद राहुल गांधी का सर्दी में टी-शर्ट पहनकर पदयात्रा करना भी सुर्खियां बना। नए साल की शुरुआत से कुछ दिनों पहले संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने दावा किया कि राहुल गांधी छुट्टयां मनाने विदेश जा रहे हैं, हालांकि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने 31 दिसंबर को दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने जोशी से माफी की मांग की। इस महीने की शुरुआत में राहुल गांधी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भारत तपस्वियों का देश है, पुजारियों का देश नहीं है। इसको लेकर भी दोनों दलों में तीखे आरोप-प्रत्यारोप हुए।
दीपिका पुष्कर नाथ ने इस्तीफे की घोषणा की
यात्रा पर उस वक्त फिर से विवाद का साया पड़ा जब जम्मू के एक नेता चौधरी लाल सिंह ने राहुल गांधी के साथ पदयात्रा की घोषणा की। कठुआ दुष्कर्म मामले के आरोपियों का सिंह द्वारा ‘बचाव किए जाने’ का हवाला देकर कई संगठनों ने उनके यात्रा में शामिल होने की योजना का विरोध किया और जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रवक्ता दीपिका पुष्कर नाथ ने इस्तीफे की घोषणा भी कर दी थी।
इस यात्रा से एक और विवाद उस वक्त जुड़ा जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने सर्जिकल स्ट्राइक से जुड़े सरकार के दावों पर सवाल खड़े किए। भाजपा ने इस पर तीखा प्रहार किया। कांग्रेस और राहुल गांधी ने दिग्विजय सिंह के बयान से दूरी बना ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × five =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।