Bones Health: कम उम्र में हड्डियों की समस्या, हो सकते हैं इस गंभीर बीमारी के शिकार

Bones Health

Bones Health : जैसै-जैसे उम्र बड़ती है वैसे ही शरीर में बीमारियां अपना घर बना लेते हैं। अब नए लाइफस्टाइल में हड्डियां समय से पहले कमजोर हो हैं, जो आगे ऑस्टियोपोरोरिस का रूप ले सकती है। इससे बचने के लिए आपको अपनी डाइट और लाइफस्टाइल में बदलाव करने चाहिए।

Highlights

  • तेजी से बड़ रहे हैं ऑस्टियोपोरोरिस के मामले
  • बदलते  लाइफस्टाइल से हो रही हैं हड्डियां कमजोर
  • जानें क्यों होता है कम उम्र में ऑस्टियोपोरोसिस
  • जानें ऑस्टियोपोरोसिस से बचने के उपाय

Bone Health की बड़ती समस्या

बॉडी को मजबूत और टिकाए रखने के लिए हड्डियों यानी बोन्स (bones health)की काफी अहमियत होती है। देखा जाए तो हड्डियां ही हमारे शरीर की असली ताकत होती हैं, लेकिन हड्डियां एक उम्र तक ही मजबूत रह पाती हैं। उम्र बढ़ने के साथ-साथ हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। लेकिन आजकल के लाइफस्टाइल में लोगों की हड्डियां उम्र से पहले ही कमजोर होकर घिस रही हैं। जिसके चलते हड्डियों और जोड़ों से संबंधी बीमारी जैसे ऑस्टियोपोरोसिस के केस तेजी से बढ़ रहे हैं।

bones 2

AOA की रिपॉर्ट के अनुसार

अमेरिकन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन के अनुसार गलत लाइफस्टाइल, असंतुलित डाइट और कम फिजिकल एक्टिविटीज की वजह से होता है। आजकल 35 साल से कम उम्र के लोगों में हड्डियों की कमजोरी और ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) के मामले देखे जा रहे हैं।

क्यों होता है कम उम्र में ऑस्टियोपोरोसिस?

डॉक्टर का मानना है कि गलत लाइफस्टाइल, डाइट और एक्सरसाइज की कमी आजकल हड्डियों के कमजोर होने के बड़े कारण बन चुके हैं। इसके अलावा कम उम्र में चोट लगने, फिसलने, खून और कैल्शियम की कमी, धूप का कम एक्सपोजर और गलत डाइट के कारण हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। जिससे अक्सर हड्डियों और जोड़ों में दर्द रहता है और चलने-फिरने या मूवमेंट करने में दिक्कत होने लगती है। हड्डियों के कमजोर होने पर कद भी कम लगने लगता है। दरअसल ऐसा तब होता है, जब रीढ़ की हड्डी की वटिब्रा सिकुड़ने लगती है और रीढ़ की हड्डी के ऊपरी भाग पर कूबड़ बन जाता है। कई बार कमजोर हड्डियां भुरभुराने लगती है जिससे बार बार उनके टूटने का खतरा बढ़ जाता है। महिलाओं में इसकी समस्या अधिक देखने को मिलती है। मेनोपॉज के दौरान शरीर में एस्ट्रोजन कम होने के कारण भी हड्डियां कमजोर होने लगती है।

bones3

ऑस्टियोपोरोसिस से बचने के उपाय

अगर आप समय से पहले हड्डियों को कमजोर होने से बचाना हैं, तो इन बातों को जरूर ध्यान रखें। डाइट में कैल्शियम युक्त फूड्स को एड करना जरूरी है। बता दें कि 20 साल से लेकर 50 साल तक की उम्र के लोगों को डेली डाइट में करीब 1000 ग्राम कैल्शियम युक्त आहार लेना जरूरी होती है। जिन लोगों को पहले से ऑस्टियोपोरोसिस है उन्हें डेली 1200 ग्राम कैल्शियम युक्त आहार लेना चाहिए।

bones 3 copy

आप अपनी डाइट में दूध, दही, छाछ और पनीर शामिल करें। इसके अलावा सोयाबीन, ब्रोकली, टोफू और अंजीर भी कैल्शियम के अच्छे सोर्स हैं। Vitamin-D की कमी पूरी करने के लिए धूप का एक्सपोजर भी जरूरी है। इसके लिए रोज कुछ समय धूप में जरूर बिताना चाहिए। दूध दही के साथ-साथ मशरूम, फलियां, अंडे, मछली का सेवन भी किया जा सकता है। डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियों को एड करके आप एक संतुलित डाइट को फॉलो कर सकते हैं, जो आपकी हड्डियों को मजबूत बना सकती हैं।

 

 

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।