भारत बंद : कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर बॉर्डर समेत दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाइवे को किसानों ने किया जाम

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान यूनियन द्वारा भारत बंद अभियान सोमवार को सुबह 6:00 बजे शुरू हो गया।

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान यूनियन द्वारा भारत बंद अभियान सोमवार को सुबह 6:00 बजे शुरू हो गया। करीब 40 संगठनों के संयुक्त किसान मोर्चे ने सोमवार सुबह 6:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक देशभर में जगह-जगह धरने और प्रदर्शन का ऐलान किया है। इन संगठनों ने कहा है कि वे कई स्थानों पर राष्ट्रीय राजमार्गों पर आवागमन को रोकेंगे। 
1632712970 bharat bandh 4
अंबाला में शंभू टोल प्लाजा के पास दिल्ली-अमृतसर राष्ट्रीय राजमार्ग को प्रदर्शनकारियों ने बंद किया है। एक प्रदर्शनकारी ने बताया, “संयुक्त किसान मोर्चा ने आज सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक के बंद का ऐलान किया था, हमने यहां सुबह 6 बजे बंद कर दिया। स्कूल या अस्पताल के लिए जाने दे रहे हैं”वहीं हरियाणा के रोहतक में संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर ‘भारत बंद’ के चलते प्रदर्शनकारियों ने स्टेट हाइवे बंद किया। कुरुक्षेत्र के शाहबाद में दिल्ली-अमृतसर राष्ट्रीय राजमार्ग को कृषि क़ानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने बंद किया है।इसके अलावा किसानों ने दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर किसानों ने जाम कर दिया है। 
1632713020 bharat bandh5
प्रदर्शनकारी किसानों ने अपने ट्रैक्टर पंजाब और हरियाणा के राजमार्गों और प्रमुख लिंक सड़कों पर खड़े कर दिए हैं और सड़कों पर बैठ गए हैं।किसानों के विरोध को देखते हुए कानून और अन्य व्यवस्था बनाए रखने के लिए हरियाणा और पंजाब में विभिन्न स्थानों पर भारी पुलिस बल देखा जा सकता है।
पुलिस ने कई जगहों पर ट्रैफिक डायवर्ट किया, क्योंकि किसानों ने हाईवे जाम कर दिया है।हालांकि, राज्यों में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं मिली है। आपातकालीन चिकित्सा सेवाओं को बंद से छूट दी गई है।’भारत बंद’ के मद्देनजर हरियाणा पुलिस ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि राज्य में लोगों को ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ सकता है।
एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि हरियाणा में व्यापक बंदोबस्त किए गए हैं। व्यवस्थाओं का प्राथमिक उद्देश्य कानून और व्यवस्था बनाए रखना, हिंसा को रोकना और यातायात और सार्वजनिक परिवहन प्रणालियों के कामकाज को सुविधाजनक बनाना है।
कांग्रेस और कुछ अन्य विपक्षी दलों ने किसानों के भारत बंद का समर्थन किया है। उधर, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानों से आंदोलन का रास्ता छोड़कर बातचीत से मुद्दे का समाधान निकालने की अपील की है। किसानों के आज के विरोध प्रदर्शन की घोषणा को देखते हुए जगह जगह यातायात बाधित होने की आशंका है। हरियाणा, उत्तर प्रदेश तथा दिल्ली सहित कई अन्य राज्यों की पुलिस ने स्थिति से निपटने के लिए विशेष प्रबंध किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen + eight =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।