Search
Close this search box.

लोगों को टीके के महत्व और कोविड नियमों के बारे में ‘‘लगातार’’ सूचित और शिक्षित करे मीडिया : जावड़ेकर

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मीडिया से लोगों को कोविड टीके के महत्व और कोविड-उपयुक्त व्यवहार के बारे में ‘‘लगातार’’ सूचित और शिक्षित करने का आग्रह किया।

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मीडिया से लोगों को कोविड टीके के महत्व और कोविड-उपयुक्त व्यवहार के बारे में ‘‘लगातार’’ सूचित और शिक्षित करने का आग्रह किया ताकि 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को इस साल दिसंबर तक टीका लगाया जा सके। मंत्री ने ट्विटर पर एक वीडियो संदेश में कहा कि कोविड महामारी एक बड़ा संकट है और टीकाकरण इसके लिए ‘‘सही इलाज’’ है।
उन्होंने कहा कि लेकिन, टीकाकरण के बाद भी लोगों को सभी सावधानी बरतनी चाहिए और सामाजिक दूरी बनाये रखने, मास्क पहनने और हाथ साफ रखने जैसे कोविड-19 सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए। जावड़ेकर ने कहा, ‘‘कोविड-19 एक बड़ा संकट है। टीकाकरण ही सही इलाज है। लोगों को यह भी समझना चाहिए कि टीकाकरण के बाद भी उन्हें दो गज की दूरी बनाए रखने, मास्क पहनने और हाथ धोने जैसी सावधानियां बरतनी चाहिए।’’
उन्होंने कहा, ‘‘मैं सभी मीडिया-इलेक्ट्रॉनिक, प्रिंट और डिजिटल- से इन सभी एहतियाती उपायों के बारे में बार-बार लोगों के सूचित करने और समाज में ऐसा माहौल बनाने का आग्रह करता हूं कि 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को दिसम्बर तक टीका लगाया जा सके।’’ जावड़ेकर ने कहा कि दिन में उनके मंत्रालय के कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए एक टीकाकरण शिविर का आयोजन किया गया था।
उन्होंने कहा, ‘‘मैं सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को संविदा कर्मचारियों सहित अपने कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए आज एक टीकाकरण शिविर आयोजित करने के लिए बधाई देता हूं।’’ उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘इस महीने की शुरुआत में, प्रेस सूचना ब्यूरो (पीआईबी) ने विभिन्न मीडिया इकाइयों के लगभग 400 अधिकारियों को टीका लगाया था। यह एक अच्छी पहल है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 + five =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।