लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

पीएम मोदी और अमित शाह ने NDRF के स्थापना दिवस पर दी शुभकामनाएं, साहस व सेवा को बताया प्रेरक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के स्थापना दिवस पर बधाई दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के स्थापना दिवस पर बधाई दी। ट्विटर पर पीएम मोदी ने कहा, मेहनती एनडीआरएफ की टीम को उनके स्थापना दिवस पर बधाई। अक्सर चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में बचाव और राहत उपायों में एनडीआरएफ सबसे आगे हैं। एनडीआरएफ का साहस प्रेरक है। उन्हें उनके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं। गृह मंत्री ने बधाई देते हुए एनडीआरएफ को साहस, सेवा और समर्पण का प्रतीक बताया। 

अमित शाह ने भी ट्वीट कर दी बधाई  
अमित शाह ने ट्वीट किया, देश को आपके साहस और संकट में फंसे लोगों की जान बचाने की तत्परता पर गर्व है, जबकि अपनी जान जोखिम में डालकर हर चुनौती का बहादुरी से सामना कर रहे हैं। उन्होंने कहा, एनडीआरएफ के 17वें स्थापना दिवस पर सभी जवानों को हार्दिक बधाई। प्राकृतिक आपदा या मानव निर्मित आपदा का जवाब देने के लिए 19 जनवरी, 2006 में विशेष टास्क फोर्स का गठन किया गया था। 
वर्तमान में 16 सक्रिय बटालियन हैं 

8 बटालियनों से शुरू हुई एनडीआरएफ की वर्तमान में 16 सक्रिय बटालियन हैं, प्रत्येक बटालियन में 1149 कर्मी हैं। बल स्थापना दिवस देश में आपदा प्रबंधन के समय एनडीआरएफ कर्मियों द्वारा दिखाए गए निस्वार्थ सेवा और बेजोड़ व्यावसायिकता की याद दिलाता है। 

यूपी: AIMIM से चुनाव लड़ रहे इकलौते ब्राह्मण मनमोहन झा ने अखिलेश पर साधा निशाना, बोले- सपा अब पूंजीवाद की गोद में बैठी

बल ने अपने 3,100 अभियानों में एक लाख से अधिक लोगों की जान बचाई है। इसने आपदाओं के दौरान 6.7 लाख से अधिक लोगों को बचाया और निकाला है। एनडीआरएफ में प्रत्येक बटालियन तकनीशियनों, इंजीनियरों, डॉग स्क्वॉड, इलेक्ट्रीशियन और मेडिकल/पैरामेडिक्स सहित 45 कर्मियों की 18 स्व-निहित विशेषज्ञ खोज और बचाव दल प्रदान करने में सक्षम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − 11 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।