सुशांत की बहन की PM मोदी से अपील, पोस्टमॉर्टम करने वाले कर्मचारी को मिले सुरक्षा

बॉलीवुड दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन को लगभग ढाई साल का वक़्त बीत चूका है। एक्टर की मौत की जांच सीबीआई कर रही है। जांच एजेंसी इस केस में कई लोगों से पूछताछ कर चुकी है, लेकिन अभी तक एक्टर की रहसयमयी मौत की गुत्थी नहीं सुलझ पाई है।

बॉलीवुड दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन को लगभग ढाई साल का वक़्त बीत चूका है। एक्टर की मौत की जांच सीबीआई कर रही है। जांच एजेंसी इस केस में कई लोगों से पूछताछ कर चुकी है, लेकिन अभी तक एक्टर की रहसयमयी मौत की गुत्थी नहीं सुलझ पाई है। लोग सीबीआई की फाइनल रिपोर्ट का इंतज़ार कर रहे हैं, इस बीच केस में एक नया मोड आ गया है, जिससे ये केस फिर से सुर्ख़ियों में आ गया है। 
कूपर हॉस्पिटल के कर्मचारी का बडा दावा
14 जून 2020 को सुशांत मुंबई स्थित अपने घर में मृत पाए गए थे। जिसके बाद उनके शरीर का पोस्टमार्टम कूपर हॉस्पिटल में किया गया था। जिसमें ये दावा किया गया था कि एक्टर की मौत फांसी की वजह से दम घुटने से हुई है, लेकिन अब उसी अस्पताल के एक कर्मचारी ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। 
दरअसल,  कूपर अस्पताल की मॉर्चुअरी के एक कर्मचारी रूपकुमार शाह ने ये दावा किया है कि सुशांत सिंह की बॉडी उन्होंने देखी थी। बॉडी देखने से ये आत्महत्या का नहीं बल्कि हत्या का केस दिखाई दे रहा था। शरीर पर एक नहीं बल्कि कई चोट के निशान थे।  उन्होंने बताया “जब मैंने सुशांत का शव देखा, तो मैंने तुरंत अपने सीनियर्स से कहा कि यह सुसाइड नहीं, बल्कि मर्डर है।
सुशांत की बहन ने की सुरक्षा की मांग
कर्मचारी रूपकुमार शाह ने बयान जैसे ही सामने आया तो उसके बाद सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने उनकी सुरक्षा की मांग करते हुए एक ट्वीट किया। उन्होंने अपने ट्वीट में गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए लिखा, ‘हमें इस बात का ध्यान रखना होगा कि रूपकुमार सुरक्षित रहे, सीबीआई ने एसएसआर मामले को समयबद्ध बनाया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।