UP सरकार के बजट पर Akhilesh Yadav ने लगाए गंभीर आरोप

akhilesh yadav

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार ने सोमवार को राज्य का बजट पेश किया। इस संदर्भ में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी की केंद्र और राज्य की योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

  • UP सरकार ने सोमवार को राज्य का बजट पेश किया
  • बजट पर Akhilesh Yadav ने लगाए गंभीर आरोप
  • ‘नाम का नहीं, काम का आना चाहिए बजट’- सपा नेता

डबल इंजन की सरकार में किसान दुखी- Akhilesh Yadav

अखिलेश यादव ने कहा कि केंद्र सरकार 5 और यूपी सरकार 1 ट्रिलियन का सपना दिख रही है लेकिन न तो नाले बने हुए हैं न सड़कें। छुट्टा पशुओं की वजह से लोगों की जान जा रही है। इस डबल इंजन की सरकार में किसान दुखी है और नौजवान के हाथ में नहीं नौकरी है। ऐसे समय में जबकि सरकार सबसे बड़े बजट का दावा कर रही है तब नौकरी बल्कि रोजगार की बात की जा रही है।

27 1

अखिलेश यादव ने उठाया इजरायल का मुद्दा

इजरायल जा रहे मजदूरों के मुद्दे पर अखिलेश यादव ने कहा कि लोग मजबूरी में विदेश जा रहे हैं। ये सरकार मजबूरी का लाभ उठा रही है। जब तक गैर बराबरी खतम नहीं होगी तब तक गैर बराबरी कैसे खत्म होगी।

बजट केवल 10 फीसदी संपन्न लोगों के लिए- पूर्व CM

इसके साथ ही पूर्व सीएम ने आरोप लगाया कि यह बजट केवल 10 फीसदी संपन्न लोगों के लिए है। ये 90 फीसदी लोगों के लिए नहीं है। यह सरकार पहले दिन से यही कर रही है। उन्होंने सरकार के उस दावे में सवाल उठाया जिसमें कहा गया है कि 40 लाख करोड़ के निवेश आए हैं। उन्होंने कहां कि सरकार बताए कि निवेश और रोजगार कहां आए हैं?

28 1

सरकार को हर जिले में साइबर थाना खोलना पड़ रहा- अखिलेश

अखिलेश ने आरोप लगाया कि जब से भाजपा की सरकार आई है तब से थाने से नहीं , बल्कि कोर्ट का सहारा लोगों को लेना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि Ease of doing business नहीं बल्कि ease of cheating हो रहा है। इसकी वजह से सरकार को हर जिले में साइबर थाना खोलना पड़ रहा है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + 6 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।