लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

कौन है वो शख्स, जिसके तेलंगाना रैली में भावुक होने पर पीएम मोदी ने पोंछे थे आंसू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को तेलंगाना के हैदराबाद गए थे। पीएम मोदी के संबोधन से पहले मंच पर तेलंगाना बीजेपी के नेताओं की ओर से राज्य में मडिगा समुदाय के साथ हो रही अनदेखी का जिक्र किया जा रहा था। तभी पीएम मोदी के ठीक बगल में बैठे स्थानीय नेता मंदा कृष्णा भावुक हो गए। इसके बाद पीएम मोदी ने उन्हें तुरंत अपने गले लगा लिया और उनके आंसू पोंछने लगे। ऐसे में इनके कई वीडियो भी वायरल हुए, आइए जानते है कि कृष्णा मडिगा कौन है, जिनके आंसू पीएम मोदी ने पूंछे

Screenshot 8 9

Manda krishna madiga

MRPS के नेता हैं कृष्णा मडिगा

मंदा कृष्णा मडिगा तेलंगाना के एक दलित नेता हैं, जो मडिगा आरक्षण पोराटा समिति (MRPS) के चीफ हैं। आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले के एडुमुडी गांव में कृष्णा मडिगा और अन्य लोगों ने मिलकर इस संगठन की स्थापनी की थी। मालूम हो, जब ये संगठन की स्थापनी तेलंगाना के गठन से भी 19 साल पहले इस इलाके के आंध्र प्रदेश का हिस्सा रहने के दौरान हुई थी।

कृष्णा मडिगा राज्य के सबसे बड़े दलित समुदाय मडिगा के नेता माने जाते हैं। उनका संगठन MRPS मडिगा समुदाय में बड़ा प्रभाव रखता है। मडिगा समुदाय में अधिकतर लोग चमड़े का काम करने वाले और मैला ढोने वाले लोग हैं, जो समाज का वंचित वर्ग माना जाता है। इसी कारण MRPS अपने समुदाय को राज्य में अनुसूचित जाति कैटेगरी के आरक्षण के अंदर अलग से एक आरक्षण कोटा तय करने की मांग को लेकर लड़ रहा है।

Manda Krishna Madiga

2013 में पीएम मोदी से मिले थे कृष्णा

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मंदा कृष्णा मडिगा पहली बार साल 2013 में संपर्क में आए थे। तभी से दोनों के बीच निकटता आई है। इसके बाद ही भाजपा ने साल 2014 के तेलंगाना विधानसभा चुनाव में अपने घोषणा पत्र में मडिगा समुदाय के लिए आंतरिक आरक्षण का वादा शामिल किया था।

thenewsminute 2F2023 11 2Fa96c5766 ce8b 49b8 968e 976fe01be3c8 2FModi mandakrishnamadiga filephoto

तेलंगाना में भाजपा को बढ़ाने में मडिगा समुदाय के समर्थन का बड़ा हाथ माना जाता है। साल 2014 और 2018 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को भले ही बड़ी सफलता नहीं मिली थी लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने यहां 4 सीट जीती थी।

MRPS ने की थी पीएम की रैली आयोजित

F0z lekXwAALAUF

बता दें, शनिवार को तेलंगाना में प्रधानमंत्री जिस रैली को संबोधित करने पहुंचे थे उसे कृष्णा मडिगा के संगठन MRPS ने ही आयोजित किया था। इस रैली में मडिगा समुदाय के काफी लोग आए थे और यहां पीएम ने कृष्णा मडिगा को अपने बराबर में बैठाया था। वहीं पीएम ने अपने संबोधन में मडिगा समुदाय का विकास रोकने के लिए तेलंगाना सरकार पर निशाना साधा था। इससे ही कृष्णा मडिगा बेहद भावुक हो गए और उनकी आंखों से आंसू निकल आए। इसके बाद पीएम मोदी ने उन्हें अपने गले लगाया और उनके आंसू पहुंचे।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − four =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।