12 फरवरी को फ्लोर टेस्ट से पहले मांझी से मिलने पहुंचे महबूब आलम, जानिए ! क्या बिहार में होगा खेला?

बिहार में नई सरकार के गठन के बाद 12 फरवरी को फ्लोर टेस्ट होना है। इससे पहले राज्य में सियासी हलचल तेज हो गई है। सभी पार्टियों को अपने विधायकों के टूटने का डर सता रहा है। बता दे कि तेजस्वी यादव पहले ही 12 फरवरी को बिहार की राजनीति में बाजी मारने का दावा कर चुके हैं।
महबूब आलम ने की जीतन राम मांझी से मुलाकात
इसी बीच फ्लोर टेस्ट से पहले महागठबंधन में शामिल भाकपा माले के विधायक महबूब आलम शनिवार को जीतन राम मांझी से मिलने उनके आवास पर पहुंच गए। बताया जा रहा है कि करीब 20 मिनट तक जीतन राम मांझी से महबूब आलम बातचीत हुई। जीतन राम मांझी से मुलाकात के बाद सीपीआई (एमएल) विधायक दल के नेता महबूब आलम ने दावा किया है कि 12 फरवरी को विश्वास मत के दौरान खेल होगा।
मांझी जी स्वस्थ हैं अब भी अच्छा खेलेंगे – आलम
लेकिन उन्होंने इस सवाल का स्पष्ट जवाब नहीं दिया कि क्या वे महागठबंधन की ओर से मांझी के पास कोई प्रस्ताव लेकर गये थे? आलम ने कहा कि मांझी जी स्वस्थ हैं। अब भी अच्छा खेलेंगे।”
मोर्चा पूरी तरह से सरकार के साथ – मोर्चा प्रवक्ता
आपको बता दे कि उनके साथ माले विधायक विधायक सत्यदेव राम भी थे। वही , इसको लेकर मोर्चा प्रवक्ता श्याम सुंदर ने कहा कि जीतन राम मांझी से हर दिन कई लोग मिलने आते हैं। मोर्चा प्रवक्ता ने आगे कहा कि विश्वास मत पर कोई संकट नहीं है। नीतीश कुमार विश्वास मत जीतेंगे। मोर्चा पूरी तरह से सरकार के साथ है।
जानिए ! किस पार्टी के पास है कितने विधायक
सदन में बहुमत साबित करने के लिए विधायकों का आंकड़े होना चाहिए जो एनडीए के पास है, जिसमें बीजेपी के 78, जेडीयू के 45, हिंदुस्तानी अवामी मोर्चा के 4 और 1 निर्दलीय समेत 128 विधायक हैं। उन्होंने कहा कि राजद और कांग्रेस विधायकों के बीच टूट तय है। राजद और कांग्रेस के विधायक ही खेल खेलने वाले हैं।
बिहार में 30 हजार से ज्यादा नौकरियों की घोषणा 
वही, बिहार में सियासी उठापटक के बीच एनडीए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। बिहार में 30 हजार से ज्यादा नौकरियों की घोषणा की गई है। डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी ने नए पदों की स्वीकृति प्रदान करने की लिस्ट सोशल मीडिया साइट X पर शेयर की है। उन्होंने लिखा कि मैंने माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देशानुसार 30 हजार 547 नए पदों की स्वीकृति प्रदान की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − 15 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।