दिल्ली के वसंत कुंज में Delhi Police और Gangsters के बीच गोलीबारी, Lawrence Bishnoi गिरोह के 2 गुर्गे गिरफ्तार

शनिवार को दिल्ली के वसंत कुंज में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गोलीबारी के बाद खतरनाक लॉरेंस बिश्‍नोई गिरोह के दो सदस्यों को पकड़ा।
लॉरेंस बिश्‍नोई गिरोह के 2 गुर्गे गिरफ्तार
शनिवार को एक अधिकारी ने बताया कि दोनों सदस्यों में 15 वर्षीय एक किशोर भी शामिल है। दूसरे आरोपी की पहचान हरियाणा के रोहतक जिले के रहने वाले अनीश (23) के रूप में हुई है।
दिल्ली के वसंत कुंज के एंबिएंस मॉल के पास हुई गोलीबारी
दिल्ली के वसंत कुंज के एंबिएंस मॉल की ओर जाने वाली सड़क पर दोनों तरफ से गोलीबारी की गई। दोनों अपराधी लॉरेंस बिश्‍नोई गिरोह के निर्देश पर दक्षिणी दिल्ली के एक प्रसिद्ध 5 स्‍टार होटल के बाहर गोलीबारी करने जा रहे थे।
गैंगस्टरों ने पांच राउंड फायरिंग की और पुलिस टीम ने आत्मरक्षा में दो राउंड फायरिंग की। गोलीबारी में हालांकि कोई घायल नहीं हुआ।
डीसीपी (विशेष शाखा) राजीव रंजन सिंह की अगुवाई में ऑपरेशन को दिया अंजाम
पुलिस उपायुक्त (विशेष शाखा) राजीव रंजन सिंह ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर में आपराधिक सिंडिकेट पर नकेल कसने के लिए एक टीम लगातार लॉरेंस बिश्‍नोई गिरोह की गतिविधियों पर नजर रख रही थी।

Delhi Police SCऑपरेशन के दौरान टीम ने धन जुटाने के लिए जबरन वसूली रैकेट में शामिल गिरोह के हरियाणा स्थित मॉड्यूल की पहचान की।
डीसीपी ने कहा, “हमें पता चला कि लॉरेंस बिश्‍नोई सिंडिकेट प्रोटेक्शन मनी वसूलने के लिए अपने शार्पशूटरों को दिल्ली में किसी प्रमुख स्थान पर गोलीबारी करने के लिए भेजने जा रहा है।”


डीसीपी ने कहा, “दिल्ली और हरियाणा में तकनीकी निगरानी रखी गई थी और शुक्रवार को टीम को विशेष सूचना मिली कि गिरोह के सदस्य वसंत कुंज में एक प्रसिद्ध 5 स्‍टार होटल के बाहर गोलीबारी करेंगे।”
फर्जी नंबर प्लेट वाली मोटरसाइकिल पर थे सवार
जाल बिछाया गया और दो संदिग्धों को फर्जी नंबर प्लेट वाली मोटरसाइकिल पर सवार देखा गया। जब उन्हें रुकने और आत्मसमर्पण करने के लिए कहा गया, तो उन्होंने अत्याधुनिक हथियारों से पुलिस पार्टी पर गोलीबारी शुरू कर दी। पुलिस दल ने आत्मरक्षा में जवाबी कार्रवाई की और उन्हें पकड़ लिया।
अनीश उर्फ मोखरा ने पुलिस को बताया कि वह बुरे तत्वों के संपर्क में आ गया और रोहतक में अपराध करने लगा।
डीसीपी ने कहा, “2019 में उसने अपने दूर के रिश्तेदार रोहित उर्फ मोटा, जो रोहतक में सक्रिय अपराधी है, की ओर से डकैती करना, जबरन वसूली के लिए गोलीबारी करना शुरू कर दिया। मई 2023 में उसके रोहित के साथ कुछ मतभेद हो गए और उसने उसे मारने का फैसला किया।”
दक्षिणी दिल्ली के एक 5 स्‍टार होटल में गोलीबारी करने का काम सौंपा गया था
डीसीपी ने कहा, “आरोपी को सिंडिकेट द्वारा दक्षिणी दिल्ली के एक 5 स्‍टार होटल में गोलीबारी करने का काम सौंपा गया था और उसने इस काम के लिए अपने गिरोह में उसी गांव के एक किशोर को शामिल किया था।
पुलिस का कहना है कि उन्हें गैंगस्टर अनमोल बिश्नोई के कहने पर पंजाब की जेल में बंद अमित से निर्देश मिले थे।
अनमोल बिश्नोई लॉरेंस बिश्नोई का रिश्ते का भाई है और संदेह है कि वह कनाडा में छिपा हुआ है। लॉरेंस बिश्नोई गुजरात की साबरमती जेल में बंद है।
आरोपियों ने 5 गोलियां चलाई और जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने दो गोलियां दागीं। पुलिस ने बताया कि इस दौरान कोई घायल नहीं हुआ।
पुलिस ने दो पिस्तौल, चार कारतूस और एक मोटरसाइकिल जब्त की है। बता दे कि बरामद हथियारों और गोला-बारूद की व्यवस्था गिरोह के सदस्यों ने हरियाणा में की थी।”
अनीश सशस्त्र डकैती, शस्त्र अधिनियम एवं हमलों के छह मामलों में और किशोर हरियाणा के रोहतक जिले में सशस्त्र डकैती के एक मामले में नामजद आरोपी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + seventeen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।