सर्दियों में बढ़ती है Arthritis के मरीजों की समस्या, ऐसे रहे सुरक्षित

सर्दियों के इस मौसम में गठिया बाय के मरीजों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है। दरअसल सर्दियों के इस मौसम में गठिया के मरीजों को सूजन, दर्द और जकड़न जैसी समस्याएं होने लगती हैं। डॉक्टर्स के अनुसार इस मौसम में गठिया के मरीजों के जोड़ों के टिशू पर गंभीर प्रभाव पड़ता है और इस दौरान गर्मियों के मुकाबले शारारिक रूप से होने वाली मेहनत भी कम हो जाती है जिसे मांसपेशियों में कमजोरी होने लगती है और जोड़ों पर प्रेशर पड़ता है। गठिया बाय की बीमारी अधिकतर उन लोगों में देखी जाती है जो शाररिक रूप से कम सक्रिय होते हैं या यह समस्या बड़े-बूढें लोगों में भी देखने को मिलती है क्योंकि बड़े लोगों के जोड़ पहले के मुकाबले कमजोर होते जाते हैं और बदलते मौसम के साथ प्रतिक्रियाशील होते हैं। इसके अलावा गलत खानपान, नींद पूरी न करना, मोटापा, मेनोपॉज और हार्मोनल उतार-चढ़ाव हुआ भी गठिया की बीमारी होने के कुछ कारण हैं। आइए जानते हैं गठिया बाय से बचाव के कुछ उपाय क्या हो सकते हैं?

  • सर्दियों में गठिया मरीजों के जोड़ों का दर्द और सूजन की समस्या बढ़ जाती है
  • इस मौसम में गठिया के मरीजों के जोड़ों के टिशू पर गंभीर प्रभाव पड़ता है
  • शारारिक एक्टिविटी कम होने से भी मांसपेशियों में कमजोरी होती है और जोड़ों पर प्रेशर पड़ता है
  • गलत खानपान, नींद पूरी न करना भी गठिया की बीमारी होने के कारण हैं

प्रतिदिन योग या एक्सरसाइज करें

सुबह या शाम में एक्सरसाइज करके आप अपने जोड़ों और मांसपेशियों को मज़बूत बना सकते हैं जिससे गठिया की समस्या यदि आपको होगी भी तो ठंड के मौसम में भी आप इससे होने वाली परेशानियों से बचे रह सकते हैं। प्रतिदिन योग, वॉक, डांस आदि करने से आपका शरीर एनर्जी से भरा रहेगा। यदि आप बाहर जाकर योग या एक्सरसाइज नहीं कर सकते तो आप घर में भी कर सकते हैं।

शरीर को गर्म रखें

सर्दियों में इस समस्या से बचने के लिए गर्म रहना बहुत जरुरी है इसलिए गर्म कपडे पहनें और गर्म चीजों का सेवन करें। ज्यादा ठंड में घर से बाहर न निकलें, यदि आवश्यक है तो गर्म गर्म कपडे, मोज़े आदि पहन कर निकलें।

स्वस्थ आहार लें

अपनी डाइट में ओमेगा-3 फैटी एसिड, फल और सब्जियां जैसे एंटी-इंफ्लेमेटरी खाने को शमिल करें। इसके अलावा अपने जोड़ों में नमी बनाकर रखने के लिए प्रतिदिन लगभग 7 से 8 ग्लॉस पानी पिएं। कुछ भी ऑयली न खाएं और अपने वजन को कंट्रोल में रखें जिससे जोड़ों पर प्रेशर न पड़े।

डॉक्टर के सम्पर्क में रहें

यदि समस्या अधिक हो रही है तो डॉक्टर से मिलें। डॉक्टर की बताई गई दवा खाएं यदि दवा से आराम नहीं मिल रहा है तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं।

थेरेपी का सहारा लें

गठिया के मरीजों को हॉट और कोल्ड थेरेपी दी जाती है जिससे आराम लगता है। यह जोड़ों की सूजन को दूर करने में असरदार है। थेरेपी लेने से पहले फिजियोथेरेपिस्ट की सलाह जरूर लें, बिना सलाह के ऐसा करना नुकसानदायक भी हो सकता है।

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई गई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें. Punjabkesari.com इसकी पुष्टि नहीं करता है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen + 19 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।