Search
Close this search box.

गहलोत सरकार की वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति ने राज्य को दंगो की भट्टी में झोंक दिया : बीजेपी

राजस्थान में सांप्रदायिक हिंसा और बढ़ते अपराध के खिलाफ निकली गई बीजेपी की हुंकार रैली में गहलोत सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर की गई।

राजस्थान के अलवर से बीजेपी ने गुरुवार को हुंकार रैली का आयोजन किया। राज्य में सांप्रदायिक हिंसा और बढ़ते अपराध के खिलाफ निकली गई रैली में गहलोत सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर की गई। प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सतीश पूनिया भी इस हुंकार रैली में शामिल हुए।
रैली के बाद सतीश पूनिया ने कहा कि राजस्थान में जितने भी धार्मिक केंद्र हैं उनपर हमले होते हैं। बहुसंख्यक हिंदुओं पर हमले होते हैं। अशोक गहलोत की सरकार ने राजस्थान को वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति के कारण आज दंगो की भट्टी में झोंक दिया है। 
दरअसल, राज्य में हाल ही में ही साम्प्रदायिक घटनाओं को लेकर बीजेपी लगातार प्रदेश की कांग्रेस सरकार को घेरने में लगी है। रैली में युवाओं ने लोकगीत के साथ थाली और ताली बजा कर विरोध जताते हुए कहा कि गहलोत के राज में जिस तरह अपराध बढ़ा है वो पूरे देश में अपराध के मामले में पहले स्थान पर पहुंच गया है। 

ईद मनाने के दौरान आपस में भिड़े एक विशेष समुदाय के दो गुट, 24 घंटे के भीतर राजस्थान में दूसरी घटना

अलवर जिले में मूक-बधिर बालिका से रेप का मामला हो, थानागाजी का मामला हो, राजगढ़ में रास्ता चौड़ा करने के मामले में 3 मंदिरों को तोड़ने के मामला हो या फिर नागौर, जोधपुर औरर करौली में हुई हिंसा हो इन सभी जगहों पर गहलोत सरकार की नाकामी सामने आई है। 
इससे पहले बीजेपी ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से कहा है कि उन्हें राजस्थान के जोधपुर का दौरा करना चाहिए जहां हाल ही में हिंसा हुई है। इसके अलावा बीजेपी ने यह भी कहा है कि, उन्हें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तुष्टिकरण की राजनीति में नहीं पड़ना चाहिए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 − eight =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।