Search
Close this search box.

David warner के बाद दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज बल्लेबाज Heinrich Klassen ने क्रिकेट के सबसे लंबे फोर्मेट को कहा अलविदा

दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज Heinrich Klassen ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है, इसी के साथ अब वह लाल गेंद से खेलते अब नजर नहीं आऐंगे। 2019 में भारत के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने वाले 32 साल के क्लासेन ने अपने संक्षिप्त टेस्ट करियर में चार मैच खेले हैं, वेस्टइंडिज के खिलाफ उन्होनें मार्च 2023 मे अपनी अंतीम मैच खेला।
Heinrich Klassen ने अपने टेस्ट करियर में 13.00 के औसत से 104 रन बनाए और सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 35 रनों की पारी खेली थी जो सर्वाधिक स्कोर था।

HIGHLIGHTS

  • 2019 में भारत के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था
  • Heinrich Klassen आईपीएल, द हंड्रेड और एमएलसी जैसी टी20 लीग में भी खेलते हैं
  • इससे पहले एल्गर ने भी क्रिकेट को अलविदा कहा था 106637318

हालांकि Heinrich Klassen सफेद गेंद के प्रारूप में दक्षिण अफ्रीका का प्रतिनिधित्व करने के लिए उपलब्ध रहेंगे। संन्यास के फैसले के बाद Heinrich Klassen ने कहा मैं सही फैसला कर रहा हूं या नहीं इसे लेकर कुछ दिनों तक नींद नहीं आई, मेरे लिए यह फैसला लेना बहुत ही कठिन था क्योंकी मैंने लाल गेंद के क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है जो की मेरा सबसे पसंदीदा प्रारूप है । मैंने मैदान के अंदर और बाहर जो लड़ाई लड़ी उसने मुझे वह क्रिकेटर बनाया जो मैं आज हूं।यह शानदार सफर रहा और मुझे खुशी है कि मैं अपने देश का प्रतिनिधित्व कर पाया, मुझे जो टेस्ट कैप मिली वह मेरे लिए सबसे कीमती कैप है। मेरे लाल गेंद के करियर में भूमिका निभाने में और मैं आज जो क्रिकेटर हूं मुझे वह बनाने में मदद के लिए सभी को धन्यवाद। आगे उन्होनें कहा अब एक नई चुनौती इंतजार कर रही है और मैं उसे लेकर उत्सुक हूं ।

आपको बता दे की Heinrich Klassen आईपीएल, द हंड्रेड और एमएलसी जैसी टी20 लीग में भी खेलते हैं, जो एक आक्रामक बल्लेबाज के तौर पर भी जाने जाते हैं। वह एक हफ्ते के भीतर टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहने वाले दक्षिण अफ्रीका के दूसरे क्रिकेटर हैं, इससे पहले एल्गर ने भी भारत के खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच खेलकर क्रिकेट को अलविदा कहा था।
Heinrich Klassen को भारत के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला के लिए मौका नहीं दिया गया था क्योंकि मुख्य कोच शुक्री कोनरेड ने काइल वेरिने को खिलाने का फैसला किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 + 9 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।