Hardik Pandya के साथ हुआ स्कैम, दोषी निकला भाई

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

88 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

Hardik Pandya के साथ हुआ स्कैम, दोषी निकला भाई

पांड्या ब्रदर्स पिछले कुछ समय से काफी ज्यादा चर्चाओं में रहे हैं, लगभग आईपीएल ऑक्शन के बाद से ही हार्दिक पांड्या किसी न किसी तरह से सुर्ख़ियों से जुड़े हुए हैं। रोहित शर्मा से कप्तानी छिनने के बाद हार्दिक पंड्या को लगातार ट्रोल किया जा रहा है। टीम को शुरूआती 3 मैच में हार का सामना करना पड़ा जिसके बाद ट्रोलर्स ने उन्हें कप्तानी से हटाने की मांग भी की।

HIGHLIGHTS

  • Hardik Pandya और क्रुनाल पांड्या के साथ धोखाधड़ी हुई
  • हार्दिक और कृणाल पांड्या के सौतेले भाई वैभव पांड्या को गिरफ्तार कर लिया
  • वैभव पर एक पार्टनरशिप फर्म से लगभग 4.3 करोड़ रुपये का हेर-फेर करने का आरोप 

hardik pandya 12

अब इसी दौरान एक और मामला सामने आया है कि हार्दिक पंड्या और क्रुनाल पांड्या के साथ धोखाधड़ी हुई है। दरअसल मुंबई पुलिस ने भारतीय क्रिकेटर्स हार्दिक और कृणाल पांड्या के सौतेले भाई वैभव पांड्या को गिरफ्तार कर लिया है। वैभव पर कथित आरोप है कि उन्‍होंने हार्दिक-कृणाल के साथ बिजनेस पार्टनरशिप में करीब 4.3 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है। टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक 37 साल के वैभव पर एक पार्टनरशिप फर्म से लगभग 4.3 करोड़ रुपये का हेर-फेर करने का आरोप है। इसकी वजह से हार्दिक-कृणाल को काफी आर्थिक नुकसान हुआ है। कथित गलती में पैसों की हेरा-फेरी और साझेदारी की शर्तों का उल्‍लंघन शामिल है। Pandya 1 1
रिपोर्ट के मुताबिक तीन साल पहले तीन व्‍यक्तियों ने संयुक्‍त रूप से विशिष्‍ट शर्तों के साथ पॉलीमर बिजनेस स्‍थापित किया। क्रिकेटर भाइयों को पूंजी का 40 प्रतिशत निवेश करना था जबकि वैभव को 20 प्रतिशत योगदान देना था व दैनिक संचालन का प्रबंधन करना था। मुनाफा इन्‍हीं शेयर के मुताबिक वितरित होना था। हालांकि, वैभव ने कथित रूप से इसी व्‍यापार में अपने सौतेले भाइयों को बताए बिना एक और फर्म स्‍थापित की और साझेदारी समझौते का उल्‍लंघन किया।
इसका परिणाम यह रहा कि वास्‍तविक साझेदारी का मुनाफा घट गया। करीब 3 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचा। साथ ही यह भी आरोप लगा कि वैभव ने शांति से अपने मुनाफे का शेयर 20 प्रतिशत से बढ़ाकर 33.3 प्रतिशत कर दिया, जिससे हार्दिक और कृणाल पांड्या को भारी आर्थिक नुकसान हुआ।
मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने वैभव पंड्या पर इन कार्यों के संबंध में धोखाधड़ी और जालसाजी का आरोप लगाया है। इस मामले पर पांड्या बंधुओं ने सार्वजनिक कोई बयान नहीं दिया है। हार्दिक पांड्या और कृणाल पांड्या इस समय आईपीएल में व्‍यस्‍त हैं। हार्दिक पांड्या मुंबई इंडियंस की कमान संभाल रहे हैं जबकि कृणाल पांड्या लखनऊ सुपरजायंट्स का प्रतिनिधित्‍व कर रहे हैं।HARDIK PANDYA SDMF
हार्दिक पंड्या बीते कुछ समय सोमनाथ मंदिर में भगवान् शिव की उपासना भी करने गए थे जिसके बाद भोलेनाथ की कृपा से टीम चौथे मैच में जीत पाने में सफल हुई। मुंबई इंडियस की टीम हर बार की तरह धीमी शुरुआत कर रही है लेकिन अब देखना होगा की बीते सालों की तरह क्या मुंबई इस बार प्लेऑफ में पहुंचने सफल हो पाएगी या नहीं। बता दें कि तीस साल के हार्दिक की कप्तानी को हालांकि फिलहाल कोई खतरा नहीं है क्योंकि आईपीएल की सबसे अधिक स्थानांतरण राशि पर उन्हें टीम में लाने के बाद मुंबई इंडियन्स के मालिक जल्दबाजी में कोई फैसला नहीं करना चाहते. मुंबई की टीम टूर्नामेंट में धीमी शुरुआत करती रही है और लय हासिल करने में समय लेती है तथा ऐसे में हार्दिक को टूर्नामेंट की शुरुआत में ही हार चुका हुआ मान लेना सही नहीं होगा क्योंकि आखिरकार वह पांच बार की चैंपियन टीम का नेतृत्व कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।