लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

Yashasvi Jaiswal की पारी देख इस पाकिस्तानी को हुई जलन, रोहित की मेहरबानी से बचा रिकॉर्ड

Yashasvi Jaiswal इंग्लैंड के खिलाफ अपने बल्ले से लगातार आग उगल रहे हैं। वह अब तक इस सीरीज में 2 दोहरे शतक ठोक चुके हैं। इंग्लैंड के गेंदबाज़ जहां जायसवाल के आगे बेअसर आ रहे हैं वहीं उनके पास अभी तक इस खिलाड़ी का कोई तोड़ नज़र नहीं आया है। जायसवाल इस सीरीज में 2 दोहरे शतक सहित 545 रन बना चुके हैं। पूरी दुनिया ने भी इस खिलाड़ी को सलाम किया है और उनके दृढ़ संकल्प को सम्मान दिया है। लेकिन पाकिस्तान के पूर्व तेज़ गेंदबाज़ वसीम अकरम को शायद यह पसंद नहीं आया है। उन्होंने जायसवाल की शानदार पारी पर मजाकिया अंदाज़ में टिपण्णी करते हुए कहा कि मेरा रिकॉर्ड टूटा नहीं है। भले ही वह ज़िम्बाब्वे थी लेकिन उनके खिलाफ भी रन बनाना आसान नहीं था।

HIGHLIGHTS

  • Yashasvi Jaiswal मौजूदा सीरीज में 545 रन बना चुके हैं। 
  • सीरीज में 2 बार 200 ठोक चुके हैं जायसवाल
  • वसीम अकरम का 257 रन का रिकॉर्ड था खतरे में 

376203

Yashasvi Jaiswal ने भारतीय पारी की दूसरी में 214 रन की नाबाद पारी खेली थी, इस पारी में उन्होंने 14 चौके और 12 गगनचुंबी छक्के लगाए थे। आपको बता दें कि टेस्ट की एक पारी में पाकिस्तान के पूर्व गेंदबाज़ वसीम अकरम भी 12 छक्के लगाने का कीर्तिमान बना चुके हैं। ऐसे में युवा बल्लेबाज़ की पारी को देखकर उन्होंने बहुत ही चुटीले अंदाज़ में अपनी प्रतिक्रिया दी। अकरम ने 1996 में जिम्बाब्वे के खिलाफ 257 रन बनाए थे। इस पारी में उन्होंने 12 छक्के लगाए थे। एक पाकिस्तानी न्यूज़ शो के दौरान उन्होंने इस पारी को याद करते हुए बताया कि मेरा रिकॉर्ड आज भी नहीं टूटा। यशस्वी ने भले ही इसकी बराबरी कर ली है लेकिन रिकॉर्ड सलामत है। लोग मेरी पारी के बारे में बहुत बोलते हैं कि मैंने वह दोहरा शतक ज़िम्बाब्वे के खिलाफ लगाया था लेकिन वह इतना भी आसन नहीं था। उन्होंने उस पारी के बारे में बताया कि जब मैं बैटिंग करने गया तो पाकिस्तान के 6 विकेट सिर्फ 170 रन पर गिर चुके थे। अगर वह पारी नहीं होती तो पाकिस्तान मैच हार जाता। अकरम की उस पारी की वजह से ही पाकिस्तान वह मैच ड्रा करने में सफल हुआ था।

अगर जायसवाल की पारी की बात की जाए तो राजकोट टेस्ट में नाबाद 214 रन बनाकर वह आईसीसी टेस्ट रैंकिंग मेंकाफी लंबी छलांग लगा चुके हैं। 22 साल का युवा बल्लेबाज लगातार 2 दोहरे शतक जड़कर विराट कोहली और विनोद कांबली के ख़ास ग्रुप का हिस्सा बना चुका है। जायसवाल मौजूदा समय में आईसीसी रैंकिंग में 15वें पायदान पर पहुँच गए हैं। उनके शानदार प्रदर्शन की बदौलत ही भारत पहला टेस्ट 28 रन से हारने के बावजूद सीरीज में 2-1 से आगे चल रहा है। सीरीज का चौथा टेस्ट 23 फरवरी से रांची में खेला जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + two =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।