Search
Close this search box.

भारत में 5G यूजर्स की संख्या 2029 तक हो जाएगी 86 करोड़!

5G in India

भारत में 5G नेटवर्क की शुरुआत अक्टूबर 2022 में हुई थी। तब से, 5G नेटवर्क की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है। एक नए अध्ययन के अनुसार, भारत में 5G यूजर्स की संख्या 2029 तक 86 करोड़ तक पहुंच जाएगी। यह study Ericsson द्वारा किया गया था। Ericsson Mobility Report के अनुसार, भारत में 5G सब्सक्रिप्शन 2023 में 13 करोड़ तक पहुंचने की उम्मीद है। यह संख्या 2024 में 26 करोड़, 2025 में 42 करोड़ और 2026 में 59 करोड़ तक पहुंच जाएगी। 2027 में, भारत में 5G सब्सक्रिप्शन 77 करोड़ तक पहुंच जाएगा।

  • 5G नेटवर्क की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है।
  • 2029 तक भारत में 5G सब्सक्रिप्शन की संख्या 86 करोड़ तक पहुंच जाएगी 
  • भारत में प्रति स्मार्टफोन औसत डेटा ट्रैफिक दुनिया में सबसे ज्यादा 

5G in India

Ericsson Mobility Report का मानना है कि भारत में 5G की लोकप्रियता तेजी से बढ़ने के कई कारण हैं। इनमें शामिल हैं:

स्मार्टफोन की बढ़ती पहुंच: भारत में स्मार्टफोन की पहुंच तेजी से बढ़ रही है। 2023 में, भारत में 87 करोड़ स्मार्टफोन उपयोगकर्ता होंगे। यह संख्या 2029 तक 1.27 अरब तक पहुंच जाएगी।

5G की बढ़ती लागत में कमी: 5G की लागत में तेजी से कमी आ रही है। इससे 5G नेटवर्क का विस्तार करना और 5G उपकरणों की कीमत कम करना आसान हो गया है।

5G की बढ़ती क्षमता: 5G नेटवर्क 4G नेटवर्क की तुलना में अधिक तेज़ और अधिक कुशल होते हैं। इससे 5G नेटवर्क पर अधिक डेटा ट्रांसफर करना और अधिक उपकरणों को जोड़ना आसान हो जाता है।

5G की लोकप्रियता बढ़ने से भारत में डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है। 5G नेटवर्क से स्ट्रीमिंग, गेमिंग, दूरस्थ काम और अन्य अनुप्रयोगों में सुधार होगा। इससे भारत में नई नौकरियों और व्यवसायों के निर्माण में मदद मिलेगी।

4G से 5G की ओर तेजी से शिफ्ट हो रहे हैं यूजर

हालांकि, अभी भी भारत में 4G का इस्तेमाल सबसे ज्यादा है। 2023 में, भारत में 4G सब्सक्रिप्शन की संख्या 87 करोड़ है। लेकिन आने वाले सालों में यह स्थिति तेजी से बदलने वाली है। यूजर बहुत तेज गति से अब 5G पर शिफ्ट हो रहे हैं। एरिक्सन मोबिलिटी रिपोर्ट के अनुसार, 2029 तक भारत में 5G सब्सक्रिप्शन की संख्या 86 करोड़ तक पहुंच जाएगी। जबकि 4G सब्सक्रिप्शन की संख्या घटकर 39 करोड़ रह जाएगी। यह स्पष्ट है कि भारत में 5G तेजी से अपना पैर पसार रहा है। आने वाले सालों में 5G भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने में एक प्रमुख भूमिका निभाएगा।

भारत में प्रति स्मार्टफोन औसत डेटा ट्रैफिक सबसे ज्यादा

भारत में प्रति स्मार्टफोन औसत डेटा ट्रैफिक दुनिया में सबसे ज्यादा है। 2023 में, यह 31GB प्रति महीना है। यह दुनिया के औसत डेटा ट्रैफिक से लगभग 50% अधिक है। इसका मतलब है कि भारत में लोग अपने स्मार्टफोन पर औसतन प्रति महीना 31GB डेटा का उपयोग करते हैं। इसमें वीडियो स्ट्रीमिंग, गेमिंग, सोशल मीडिया और अन्य ऑनलाइन गतिविधियाँ शामिल हैं। एरिक्सन मोबिलिटी रिपोर्ट के अनुसार, 2029 तक भारत में प्रति स्मार्टफोन औसत डेटा ट्रैफिक बढ़कर 75GB प्रति महीना हो जाएगा। यह एक महत्वपूर्ण वृद्धि है, जो भारत में डिजिटल अर्थव्यवस्था के विकास को दर्शाती है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।