बजट 2022 : चालू वित्त वर्ष में देश की आर्थिक विकास दर 9.2 प्रतिशत रहने की उम्मीद

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज लोकसभा में अपना चौथा बजट पेश कर रही हैं। कोरोना काल में पेश हो रहे इस बजट से मजदूर वर्ग से लेकर उद्योगपति वर्ग को भी काफी उम्मीदें हैं।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज लोकसभा में अपना चौथा बजट पेश कर रही हैं। कोरोना काल में पेश हो रहे इस बजट से मजदूर वर्ग से लेकर उद्योगपति वर्ग को भी काफी उम्मीदें हैं। बजट 2022 को समग, कल्याण के लक्ष्य को लेकर तैयार किया गया है जिसमें निजी निवेश को बढ़ावा देने और गरीबों की क्षमता को बढ़ाने की प्रतिबद्धता भी है।
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को वित्त वर्ष 2022-23 का बजट पेश करते हुए कहा कि चालू वित्त वर्ष में देश की आर्थिक वृद्धि दर 9.2 प्रतिशत रहने का अनुमान है। सीतारमण ने अपने बजट भाषण में कहा कि देश में आर्थिक गतिविधियों में आई तीव्र बहाली से वर्ष 2021-22 की वृद्धि दर 9.2 प्रतिशत रह सकती है।
उन्होंने कहा कि पूंजीगत व्यय और निजी निवेश में हुए सुधार के दम पर निवेश का एक सक्षम दौर दोबारा शुरू होने की संभावना है। सीतारमण ने कहा, ‘‘वर्ष 2014 से ही सरकार का ध्यान गरीबों एवं वंचितों पर है। सरकार मध्यवर्ग के लिए भी जरूरी पारिस्थितिकी मुहैया कराने के लिए प्रयासरत है।’’ एक दिन पहले संसद में पेश आर्थिक समीक्षा 2021-22 में भी चालू वित्त वर्ष के लिए वृद्धि दर 9.2 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया गया था। 
जल्द आएगा LIC का आईओपी
वित्त मंत्री ने एयर इंडिया का सफलतापूवर्क विनिवेश किये जाने का उल्लेख करते हुए कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) का जल्द ही प्रारंभिक सार्वजनिक निर्गम आयेगा। उन्होंने कोरोना से मारे गए लोगों के प्रति संवेदना प्रकट की। उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव से सौ साल पूरे होने पर योजना, अर्थव्यवस्था को मजबूत करने, 25 साल की बुनियाद रखने वाला बजट तैयार किया गया है। यह बजट विकास को गति देगा। वित्त मंत्री ने कहा कि बजट में प्रधानमंत्री गतिशक्ति मिशन मजबूती देने के उपाय किए गए हैं ताकि अर्थव्यवस्था को बल मिल सके और भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने का रिकार्ड बनाए रख सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।