केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने कहा- अगले साल कम से कम दो और एफटीए की उम्मीद

केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बृहस्पतिवार को उम्मीद जताई कि 2023 में कम से कम दो और मुक्त व्यापार समझौतों (एफटीए) पर हस्ताक्षर होंगे।

केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बृहस्पतिवार को उम्मीद जताई कि 2023 में कम से कम दो और मुक्त व्यापार समझौतों (एफटीए) पर हस्ताक्षर होंगे।गोयल ने यहां एक कार्यक्रम में कहा कि ब्रिटेन, यूरोपीय संघ और कनाडा के साथ बातचीत होनी है।उन्होंने कहा, ‘‘भारत आज मजबूती के साथ बात करता है। हम विश्वास के साथ बातचीत करते हैं।’’ उन्होंने कहा कि इस साल देश कम से कम दो एफटीए पर हस्ताक्षर करेगा।
विदेश में उनके समकक्षों के बीच कई बैठकें 
इस साल अप्रैल में हुए भारत-ऑस्ट्रेलिया आर्थिक सहयोग और व्यापार समझौते के संबंध में आयोजित एक कार्यक्रम में गोयल ने कहा कि जनवरी में भारतीय वाणिज्य मंत्रालय के अधिकारियों और विदेश में उनके समकक्षों के बीच कई बैठकें होनी हैं।समझौते के बाद ऑस्ट्रेलिया भेजे जाने वाले पहले भारतीय माल के लिए मूल प्रमाण पत्र सौंपने के बाद उन्होंने कहा कि एफटीए से कपड़ा, रत्न और आभूषण तथा सूचना प्रौद्योगिकी सहित कई क्षेत्रों को लाभ होगा।
आर्थिक भागीदारी RCEP को छोड़ दिया 
गोयल ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अगले 5-7 वर्षों में भारतीय आईटी कंपनियों का ऑस्ट्रेलिया को निर्यात बढ़कर एक अरब अमेरिकी डॉलर हो जाएगा, जो इस समय 20 करोड़ डॉलर है।उन्होंने कहा कि भारत ने 2019 में जिस क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक भागीदारी (आरसीईपी) को छोड़ दिया था, वह आर्थिक रूप से विवेकपूर्ण और समझदारी भरा फैसला था। उन्होंने कहा कि यह समझौता मुख्य रूप से चीन के साथ एक मुक्त व्यापार समझौता बनकर रह जाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight − 8 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।