Chirag Paswan का बड़ा दावा, JDU में 15 जनवरी के बाद बड़ी टूट

Chirag Paswan

जमुई के सांसद और लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख Chirag Paswan ने दावा किया है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जनता दल में आने वाले महीने एक बड़ा विभाजन होगा। मीडिया से बात करते हुए पासवान ने नीतीश कुमार पर कड़ा प्रहार किया और कहा कि एक दिन आएगा जब जेडीयू का नाम लेने वाला कोई नहीं बचेगा।

HIGHLIGHTS POINTS:

  • Chirag Paswan ने किया दावा
  • बिहार के सीएम नीतीश कुमार की पार्टी पर कटाक्ष
  • जनता दल में आने वाले महीने एक बड़ा विभाजन होगा

क्या नीतीश के बाद तेजस्तवी यादव होंगे उत्तराधिकारी

15 जनवरी के तुरंत बाद, जनता दल यूनाइटेड में एक बड़ा विभाजन होगा। नीतीश ने अपनी पार्टी में कोई अन्य नेतृत्व नहीं बनाया है। वैसे भी, वह इन दिनों किसी और की तलाश में हैं। वह तेजस्वी यादव को बढ़ावा देने में व्यस्त हैं, वह उन्हें ऐसा कहते हैं कि मेरे बाद वह उत्तराधिकारी हैं। जेडीयू का नाम लेने वाला कोई नहीं बचेगा।

भीम संसद को बताया अनुसूचित जाति के विरोधी

Chirag Paswan ने मीडिया से बात करते हुए कहा, इसके अलावा, बिहार के मुख्यमंत्री की ‘भीम संसद’, उनकी पार्टी जनता दल-यूनाइटेड द्वारा आयोजित अनुसूचित जाति समुदायों की एक सभा को ‘वोट बैंक की राजनीति’ करार देते हुए, पासवान ने कहा कि कुमार ‘विरोधी’ हैं। यह वोट बैंक की राजनीति है, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सोच हमेशा अनुसूचित जाति के खिलाफ रही है।

मांझी के खिलाफ विवादित बयान का लगाया आरोप

हाल ही में, उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के लिए जिस भाषा का इस्तेमाल किया, वह खुद दलित समुदाय से हैं बिहार विधानसभा, ये सभी बातें उनकी सोच को साबित करती हैं। आज भी बिहार में अनुसूचित जाति अपने अधिकारों से वंचित है और इसके लिए मुख्यमंत्री जिम्मेदार हैं। विशेष रूप से, 9 अक्टूबर को, नीतीश कुमार ने बिहार विधानसभा में अपना आपा खो दिया और मांझी द्वारा सरकार के जाति सर्वेक्षण पर संदेह जताने के बाद उन पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि यह उनकी ‘मूर्खता’ थी जिसने उन्हें मांझी को राज्य में सत्ता की सर्वोच्च सीट पर कब्जा करने के लिए प्रेरित किया।

 

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।