अतिपिछड़ा और पिछड़ा वर्गों के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही है केंद्र की भाजपा सरकार : उमेश सिंह कुशवाहा - Latest News In Hindi, Breaking News In Hindi, ताजा ख़बरें, Daily News In Hindi

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

अतिपिछड़ा और पिछड़ा वर्गों के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही है केंद्र की भाजपा सरकार : उमेश सिंह कुशवाहा

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा जी ने पार्टी कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पिछड़ा एवं अतिपिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं की छात्रवृति योजना को बंद करना इन वर्गों के छात्र-छात्राओं के विरुद्ध एक बड़ी साजिश है।

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष  उमेश सिंह कुशवाहा जी ने पार्टी कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पिछड़ा एवं अतिपिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं की छात्रवृति योजना को बंद करना इन वर्गों के छात्र-छात्राओं के विरुद्ध एक बड़ी साजिश है। केंद्र की भाजपा सरकार वंचितों का हक़ छीनने पर उतारू है और उसने एक बार फिर से अपने अतिपिछड़ा-पिछड़ा विरोधी चेहरे और आरक्षण विरोधी मानसिकता को देश की जनता के सामने उजागर किया है।
उन्होंने कहा कि जब से मोदी सरकार केंद्र में आई है, इसने पिछड़ा एवं अतिपिछड़ा वर्ग के अधिकारों पर लगातार चोट किया है। केंद्र सरकार ने तो अब इस वर्ग के बच्चों को शिक्षा से ही दूर रखने का एक नया तरीका निकाला है। उन्होंने सवाल किया कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को सोचना चाहिए कि वो इन गरीब वर्ग के बच्चों के हाथ से कलम और किताब छीनकर कितना पैसा बचा लेंगे? क्योंकि यही बच्चे छात्रवृति पाकर पढ़-लिख देश के निर्माता बनेंगे, देश का भविष्य इन्हीं के कन्धों पर है। 
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जनता दल यूनाइटेड पिछड़े वर्ग के इन बच्चों के हक़ को किसी के द्वारा भी छीनने नहीं देगी। जदयू केंद्र सरकार के इस निर्णय को एक क्षण भी बर्दाश्त नहीं करेगी। हमारी पार्टी ने इस निर्णय के खिलाफ आज से ही जनान्दोलन और जन जागरण अभियान की शुरुआत कर दी है। इस अभियान के तहत आज प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर जदयू कार्यकर्ताओं द्वारा प्रधानमंत्री का पुतला दहन किया जा रहा है। 
उमेश सिंह कुशवाहा ने बताया कि इस छात्रवृति योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा 50% और राज्य सरकार द्वारा 50% राशि वहन की जाति है। केंद्र सरकार ने नया नियम बनाकर पहले नवम एवं दशम के छात्रों की छात्रवृति बंद की और अब यशस्वी योजना के में प्रथम से लेकर आठवीं के छात्र-छात्राओं को शामिल कर उनके छात्रवृति की राशि को बीते कुछ समय से दुर्भावनापूर्ण ढ़ंग से रोक कर केंद्र सरकार बच्चों के साथ भद्दा मजाक कर रही है।
उमेश कुशवाहा ने आगे कहा कि केंद्र सरकार ने जान-बूझकर यह कदम उठाया है, इससे साफ़ जाहिर होता है कि मोदी सरकार पिछड़ा-अतिपिछड़ा विरोधी है। परन्तु बिहार में दलितों- पिछड़ों को समर्पित सुशासन की सरकार है। हमारी सरकार किसी भी क़ीमत पर अतिपिछड़े और पिछड़े समाज के हितों से समझौता नहीं करेगीl केंद्र सरकार के इस निर्णय के बाद माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी अतिपिछड़े-पिछड़े वर्गों के प्रथम कक्षा से लेकर दशम कक्षा तक के छात्रों को अपने संसाधनों से छात्रवृति दे रही है।
प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश अध्यक्ष ने उपेन्द्र कुशवाहा के सम्बंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि उपेन्द्र कुशवाहा ने अपने राजनीतिक जीवन में नौ बार पाला बदला है और उनका अब कोई राजनीतिक अस्तित्व नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने लगातार पिछड़ा एवं अतिपिछड़ा विरोधी काम किया हैl जातीय जनगणना, नगर निकाय के चुनावों में अतिपिछड़ा आरक्षण और अब छात्रवृति पर उसने जो रवैया अपनाया है, उससे भाजपा का चेहरा पूरी तरह बेनकाब हो चुका है। उन्होंने कहा कि आने वाले 2024 चुनाव में जनता भाजपा को मुंहतोड़ जवाब देगी। प्रेस कांफ्रेंस में पूर्व विधानपार्षद प्रदेश उपाध्यक्ष श्री सतीश कुमार सिंह, प्रदेश प्रवक्ता श्रीमती अंजुम आरा, श्री बिरेन्द्र सिंह डांगी, श्री शिवशंकर निषाद, पटना महानगर अध्यक्ष आसिफ कमाल आदि भी उपस्थित थेl

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve + 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।