Alia Bhatt ने अपने माता पिता के जीवन के संघर्ष के बारे में बताया, कहा 'कभी नहीं भूलूंगी.. - Latest News In Hindi, Breaking News In Hindi, ताजा ख़बरें, Daily News In Hindi

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

Alia Bhatt ने अपने माता पिता के जीवन के संघर्ष के बारे में बताया, कहा ‘कभी नहीं भूलूंगी..

बॉलीवुड की गंगूबाई और नेशनल अवार्ड विनर एक्ट्रेस आलिया भट्ट इस वक़्त अपने करियर के सबसे ऊँचे मुकाम पर हैं। जहां प्रोफेशनली आलिआ की लेटेस्ट सारी रिलीज़ बॉक्स ऑफिस पर धमाका मचा चुकीं हैं वहीं आलिआ को हाल ही में उनकी ब्लॉकबस्टर फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी के लिए नेशनल अवार्ड मिला है और आलिया पर्सनल लाइफ में भी अपने ऑल टाइम क्रश से शादी करने के बाद अब वो ‘मदरहुड’ एन्जॉय कर रही हैं। लेकिन आलिआ के लिए ये जीवन हमेशा से ऐसा नहीं था। आज भी आलिया को कई बार उनके इस आउटस्टैंडिंग करियर के लिए उनके लक और उनके पेरेंट्स को ही क्रेडिट दिया जाता  है।

alia mahesh

बॉलीवुड से हॉलीवुड तक अपनी एक्टिंग का लोहा मनवा चुकि आलिआ को स्टारकिड और नेपो किड बोल उनकी मेहनत को नज़रअंदाज़ किया जाता है।हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान आलिआ ने अपने माता पिता के जीवन का संघर्ष बताया और बताया कि कैसे उनके पापा महेश भट्ट और मम्मी सोनी राज़दान ने उनको एक अच्छा जीवन देने के लिए कितने स्ट्रगल किये। बॉलीवुड किड होने के बाद भी कैसे वो कई privileges से दूर रहीं। 

AliaBhattsister1667730336805

लोग अक्सर आलिया के करियर को उनके पापा महेश भट्ट के सक्सेस से जोड़ देते हैं।  जिसका जवाब देते हुए आलिआ ने अपने पापा महेश भट्ट के लिए कहा, ‘एक समय उनके पास फ्लॉप फिल्मों का एक समूह था, उनके पास मुश्किल से ही कुछ पैसे होंगे और वह उस वक़्त शराब की लत से भी जूझ रहे थे। आलिया ने  कहा कि महेश भट्ट ने बाद में शराब छोड़ दी, लेकिन उन्होंने अपने जीवन और करियर में कई उतार-चढ़ाव देखे  हैं। आलिया ने कहा, ‘मेरे माता-पिता को उस मुकाम तक पहुंचने के लिए संघर्ष करना पड़ा जहां मैं उनके privileges का आनंद ले सकूं। मै इसे कभी नहीं भूलूंगी। आलिआ ने आगे कहा कि अगर उन्हें कल को बॉलीवुड में फिल्में मिलना बंद भी हो जाएँगी।  तो वो इस बात से खफा नहीं होंगी।  क्यूंकि उन्हें जो opportunities बॉलीवुड ने दी हैं उसका वो सम्मान करती हैं ,और वो इसे कभी नहीं भूलेंगी। 

378031 6124839 updates

अपनी माँ सोनी राज़दान  के बारें में बात करते हुए आलिआ ने बताया की उनकी माँ को बॉलीवुड में फिल्म करने के लिए बहुत स्ट्रगल करना पड़ा। उनका बॉलीवुड में कोई नहीं था और उनकी हिंदी भी अच्छी नहीं थी जिसकी वजह से उनकी माँ को फिल्में मिलने में बहुत मुश्किलें हुईं। उन्होंने थिएटर किया टीवी serials किये जो भी छोटी बड़ी opportunities मिली उन्होंने उसको एक्सेप्ट किया । वो कभी मेन स्ट्रीम हेरोइन नहीं बन पाई लेकिन वो आज जहाँ पर भी हैं वहां पोहोचने के लिए उन्होंने बहुत मुश्किलों का सामना किया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − 10 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।