लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

नहीं रहीं मशहूर शास्त्रीय गायिका प्रभा अत्रे, दिल का दौरा पड़ने से हुआ निधन

प्रभा अत्रे: म्यूजिक इंडस्ट्री से जुड़ी एक दुखद खबर सामने आई है। खबर है कि प्रसिद्ध शास्त्रीय गायिका डॉ. प्रभा अत्रे का शनिवार सुबह 92 वर्ष की उम्र में पुणे में उनके आवास पर दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्हें पुणे के दिनानाथ मंगेशकर अस्पताल लेकर गए थे, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया। दिग्गज गायिका हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के किराना घराने से जुड़ी थीं। संगीत के क्षेत्र में योगदान के लिए उन्हें भारत सरकार द्वारा तीनों प्रतिष्ठित पद्म पुरस्कारों से भी सम्मानित किया था।

  • म्यूजिक इंडस्ट्री से जुड़ी एक दुखद खबर सामने आई
  • खबर है कि प्रसिद्ध शास्त्रीय गायिका डॉ. प्रभा अत्रे का शनिवार सुबह 92 वर्ष की उम्र में पुणे में उनके आवास पर दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया

गायिका प्रभा अत्रे का हुआ निधन

प्रभा अत्रे का मुंबई में एक कार्यक्रम था, लेकिन उसमें हिस्सा लेने के पहले ही उन्हें दिल का दौरा पड़ गया। शास्त्रीय गायिका प्रभा ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया। वहीं उनके करीबियों ने सोशल मीडिया के जरिए उन्हें श्रद्धांजली दी है। प्रख्यात शास्त्रीय गायिका डॉ. प्रभा अत्रे का निधन आज यानी शनिवार, 13 जनवरी, 2024 को हुआ।

2578388 prabha atre

प्रभा अत्रे के बारे में खास बातें

गायिका प्रभा अत्रे ने किराना घराना के सुरेशबाबू माने और हीराबाई बड़ोदकर से क्लासिकल म्यूजिक सीखा था। शास्त्रीय गायिका होने के अलावा वह एक लेखिका भी थीं। विज्ञान और विधि में स्नातक प्राप्त अत्रे ने संगीत में डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की थीं।

maxresdefault 1 1

प्रभा अत्रे को मिले 3 पद्म पुरस्कार

प्रभा अत्रे को साल 1990 में पद्म श्री, साल 2002 में पद्म भूषण और 2022 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। अत्रे ने अपने करियर के शुरुआत में स्टेज सिंगिंग एक्ट्रेस के रूप में काम किया। उन्होंने मराठी थिएटर क्लासिक्स में भी भूमिकाएं निभाईं थी, जिनमें ‘संशय-कल्लोल’, ‘मानापमान’, ‘सौभद्रा’ और ‘विद्याहरण’ जैसे संगीत नाटक शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।