Ranveer Singh ने Aman Gupta के ब्रांड boAT में किया निवेश

Ranveer Singh invests in Aman Gupta's boAt

बॉलीवुड अभिनेता रणवीर सिंह ने शार्क टैंक के पॉपुलर जज अमन गुप्ता द्वारा स्थापित दुनिया के दूसरे सबसे बड़े ऑडियो वियरेबल ब्रांड boAT में निवेश किया है साथ ही वह boAT के ब्रांड एंबेसडर भी बने हैं। रणवीर सिंह काफी फेमस है साथ ही ऑडियो प्राथमिकताओं की गहरी समझ उन्हें boAt के लिए एक रणनीतिक संपत्ति बनाती हैं। एक्टर ने जो इन्वेस्टमेंट ब्रांड में की है वह उनके विश्वास को दिखाती है।

Ranveer Singh invests in Aman Gupta's boAt

एक्टर ने boAT में किया निवेश

बता दें, अभिनेता रणवीर सिंह के बोट में इन्वेस्टमेंट के बारे में कंपनी ने एक आधिकारिक बयान के माध्यम से बताया है। हालांकि उन्होंने कितनी राशि का निवेश किया है इसे नहीं बताया गया है। बोट के सह-संस्थापक और सीएमओ अमन गुप्ता ने कहा, ”उनका (रणवीर सिंह) का निवेश और रणनीतिक भागीदारी भारत में ऑडियो एक्सपीरियंस में क्रांति लाने के हमारे मिशन को मान्य करती है। साथ मिलकर सीमाओं को आगे बढ़ाएंगे, साउड को फिर से परिभाषित करेंगे और एक ऐसा ग्रुप बनाएंगे जो जुनून और नवीनता पर पनपता हैं।”

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Ranveer Singh (@ranveersingh)

‘निर्वाण सीरीज’ कैंपन के स्टार

कंपनी के अनुसार यह साझेदारी बोट के सब-ब्रांड ‘निर्वाण सीरीज’ के लिए प्रीमियम और बेहतर ऑडियो प्रोडक्ट की पेशकश करने वाले बोट के आगामी कैंपेन में सिंह की जरूरी रोल के लिए मंच तैयार करती है। जिसमें सुनने के बेहतरीन अनुभव के लिए तैयार किए गए TWS और हेडफोन शामिल हैं। अब निर्वाण रेंज की पावरफुल 120 घंटे की बैटरी लाइफ, boAt सिग्नेचर साउंड और एक्टिव नॉइज़ कैंसिलिंग तकनीक का विज्ञापन रणवीर सिंह करेंगे।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Ranveer Singh (@ranveersingh)

2016 में शुरू हुई थी कंपनी

आपको बता दें, भारत की इलेक्ट्रॉनिक्स और ऑडियो उत्पाद कंपनी में से एक boAt की स्थापना नवंबर 2016 में समीर मेहता और अमन गुप्ता ने की थी। एक रिपोर्ट के अनुसार, फंडिंग के आखिरी दौर के बाद, कंपनी का मूल्य लगभग ₹2200 करोड़ था। हालांकि कुछ रिपोर्टों के अनुसार, मार्च 2023 को खत्म होने वाले फाइनेंशियल ईयर के लिए boAT ने 3,377 करोड़ रुपये का अपना उच्चतम राजस्व दर्ज किया था। यह पहली बार था जब कंपनी को लगातार आठ सालों तक प्रोफिट में रहने के बाद 129.4 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two + 17 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।