लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

क्या हुआ जब बिगबॉस का यह कंटेस्टेंट हुआ कास्टिंग काउच का शिकार?

शिव ठाकरे को बिगबॉस 16 के बाद काफी पहचान मिली है। इस शो के बाद शिव कई और रिएलिटी शोज का हिस्सा बने, लेकिन यहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने काफी मेहनत की है। शिव ठाकरे हाल ही में में भारती सिंह और हर्ष लिंबाचिया के पॉडकास्ट का हिस्सा बने थे। इस पॉडकास्ट में शिव ने खुद को लेकर कई खुलासे किए।

  • शिव ठाकरे को बिगबॉस 16 के बाद काफी पहचान मिली है।
  •  पॉडकास्ट में शिव ने खुद को लेकर कई खुलासे किए।

फेस करना पड़ा था भेदभाव

शिव ठाकरे ने बताया है कि कैसे एक रिएलिटी शो करने के बाद उनकी जिंदगी बदल गई है, उन्होंने खुलासा किया कि एक समय था जब उनके पास पैसे नहीं हुआ करते थे और आज वो काफी मंहगे हो गए हैं. शिव ने बिग बॉस मराठी का एक्सपीरियंस शेयर करते हुए कहा- ‘वो मेरा पहला शो था जहां मुझे इतना अमाउंट मिला था. मैं शो जीतता था तो मुझे 25 लाख रुपए प्राइज मनी मिली थी। जिसमें से 8 लाख दूसरे रनरअप ने जीत लिए थे। मेकर्स ने मेरे पेरेंट्स को भी फ्लाइट का टिकट भी नहीं दिया था, जिसका पैसा भी मैंने लगाया।

शिव ने आगे कहा- ‘इसके बाद टैक्स वगैरह कट कर मेरे पास सिर्फ 11 लाख रुपए आए थे. उसमें से मैंने अपने डिजाइनर और मैनेजर को भी उनकी फीस दी थी. लेकिन जब ‘मुझे बिग बॉस 16’ के लिए कॉल आया तब मुझे यकीन ही नहीं हुआ कि ये लोग मुझे इतना चार्ज कर रहे हैं।

94642561

107936217

बिग बॉस हिंदीकरने से बदल गई लाईफ

शिव ने बताया कि कैसे ‘बिग बॉस हिंदी’ करने के बाद 1 साल में ही उनकी जिंदगी में बड़ा बदलाव आया है. एक्टर ने कहा कि बिग बॉस में उन्हें काफी पैसा मिला और उसके बाद उन्होंने ‘खतरों के खिलाड़ी’ और ‘झलक दिखला जा’ भी किया। शिव ने बताया कि उन्हें रील्स पोस्ट करने से लेकर किसी शो में गेस्ट अपीरिंयस देने तक के लिए पैसा मिलने लगा। कभी-कभी मेरा मैनेजर कहता था कि ये तो बहुत कम पैसा दे रहे हैं, लेकिन मेरे लिए वो बहुत बड़ी रकम होती थी।

5 31

17 06 2023 shiv thakare baba 23444015

जब शिव हुए कास्टिंग काउच का शिकार

शिव ठाकरे ने बताया कि कैसे वो एक बार कास्टिंग काउच का शिकार हुए थे। उन्होंने कहा कि ‘बिग बॉस मराठी’ के बाद मुझे एक इवेंट में जाना था, जिसके लिए मुझे कपड़े चाहिए थे, मैं उनके स्टूडियों गया कपड़े की नाप देने के लिए, लेकिन वहां एक टीम मेंबर को मैं पसंद आ गया, वो मुझे कपड़े नहीं दिखा रहा था बल्कि मुझे स्पा में बुलाने लगा। उसके बाद शिव ने कहा कि मैं परेशान होकर वापस आ गया, लेकिन वो मुझे मैसेज करके पूछता रहा कि मैं कब आऊंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।