Search
Close this search box.

2024 में नौकरियों की छंटनी शरू ! ये कंपनिया कर रही है बड़े पैमाने पर lay off

LAYOFF

(Google LayOff)  नया साल शुरू हुआ है, लेकिन कुछ कंपनियों के कर्मचारियों के लिए ये खुशियों का समय नहीं है। 2024 में कई बड़ी कंपनियों ने अपने कर्मचारियों की छंटनी शुरू कर दी है, जिससे हजारों लोगों की रोजी-रोटी पर संकट छाया हुआ है। पिछले कुछ महीनों से नौकरियों के बाजार में एक चिंता भरा माहौल बना हुआ है। कई बड़ी कंपनियां अपने कर्मचारियों की छंटनी कर रही हैं, जिससे लोगों की नौकरियां और भविष्य अधर में लटक गया है। आइए, नजर डालते हैं उन कंपनियों पर, जिनके कर्मचारियों को इस मुश्किल दौर का सामना करना पड़ रहा है। आइए जानते हैं किन कंपनियों में हो रही है नौकरियों की कटौती और इसके पीछे क्या कारण हैं।
पिछले कुछ महीनों से नौकरियों के बाजार में एक चिंता भरा माहौल बना हुआ है। (Google Lay Off)  कई बड़ी कंपनियां अपने कर्मचारियों की छंटनी कर रही हैं, आइए, नजर डालते हैं उन कंपनियों पर, जिनके कर्मचारियों को इस मुश्किल दौर का सामना करना पड़ रहा है।

Google LayOff

टेक कंपनियां में छंटनी:

  • अमेजन: ट्विच स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर 500 कर्मचारियों की छंटनी हुई। ट्विच: गेमिंग स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म ने अपने 35% कर्मचारियों को निकाल दिया, जो लगभग 500 लोगों का आंकड़ा है।
  • गूगल: (Google LayOff)  डिजिटल असिस्टेंट, हार्डवेयर और इंजीनियरिंग टीमों में कुछ पदों को खत्म किया। यूनिटी सॉफ्टवेयर: 1,800 कर्मचारियों की छंटनी, जो कुल कर्मचारियों का 25% है।
  • माइक्रोसॉफ्ट: होलो लेंस, सरफेस लैपटॉप और एक्सबॉक्स प्रोडक्ट्स पर काम करने वाले 100 कर्मचारियों की छंटनी।
  • अमेज़ॅन: ऑनलाइन रिटेल जायंट ने कई डिपार्टमेंट्स में छंटनी की है, जिसमें प्राइम वीडियो, एमजीएम स्टूडियो और ट्विच सहित शामिल हैं।

Google LayOff

 

  • यूनिटी सॉफ्टवेयर: गेम डेवलपमेंट प्लेटफॉर्म ने अपने 25% कर्मचारियों को, यानी लगभग 1,800 लोगों को निकाल दिया।
  • ब्लैक रॉक: फाइनेंशियल मैनेजमेंट कंपनी ने अपने 3% कर्मचारियों, यानी 600 लोगों को निकालने का फैसला किया है।
  • सी4 थेरेप्यूटिक्स (C4 Therapeutics): बायोटेक कंपनी ने अपने 30% कर्मचारियों की छंटनी की है।
  • न्यूस्केल पावर: न्यूक्लियर एनर्जी स्टार्टअप ने 40% कर्मचारियों को निकाल दिया है।
  • जॉनसनविले: फूड प्रोसेसिंग कंपनी ने 400 कर्मचारियों की छंटनी की है।

Google LayOff

क्यों हो रही है छंटनी?

  • मंदी का प्रभाव: वैश्विक स्तर पर मंदी का असर कंपनियों के मुनाफे पर पड़ रहा है, जिससे लागत कम करने के लिए कर्मचारियों की छंटनी का रास्ता अपनाया जा रहा है।
  • टेक्नोलॉजी में बदलाव: टेक्नोलॉजी तेजी से बदल रही है और कंपनियां अपने कामकाज के तरीके में बदलाव कर रही हैं, जिससे कुछ पदों की जरूरत कम हो रही है।
    कॉस्ट-कटिंग: कुछ कंपनियां लागत कम करने के लिए कर्मचारियों की छंटनी का रास्ता अपना रही हैं, भले ही उनका मुनाफा अच्छा हो।
  • महामारी का प्रभाव: कोरोना वायरस महामारी ने कई कंपनियों की आर्थिक स्थिति को प्रभावित किया है।
  • ग्लोबल इकोनॉमी का सुस्ती: दुनिया भर की अर्थव्यवस्था में सुस्ती के कारण कंपनियां अपना खर्च कम करने की कोशिश कर रही हैं।

क्या हो सकता है इसका असर?

कर्मचारियों की छंटनी से हजारों लोगों की रोजी-रोटी पर संकट आ गया है। इससे आर्थिक मंदी और बढ़ सकती है और बेरोजगारी की दर भी बढ़ सकती है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + 17 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।