लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

ओडिशा की ओर बढ़ रहे चक्रवाती तूफान ‘तितली’ ने लिया प्रचंड रूप, कई हिस्सों में हुई बारिश

ओडिशा में  मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह मौसम विभाग ने एक बार फिर से मछुआरों को समुद्र में न जाने की हिदायत देते हुए अलर्ट जारी कर दिया है।

 बंगाल की खाड़ी पर बन रहे दबाव के कारण आए चक्रवाती तूफान ‘तितली’ ने बुधवार को प्रचंड रूप ले लिया और यह ओडिशा-आंध्र प्रदेश तट की ओर बढ़ रहा है जिससे ओडिशा के कई हिस्सों में बारिश हुई। भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवातीय तूफान के 145 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाओं के साथ गुरुवार सुबह तक ओडिशा के गोपालपुर और आंध्र प्रदेश के कलिंगापत्तनम के बीच पहुंचने की संभावना है।

विभाग ने एक बुलेटिन में कहा, ‘‘तितली 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ आगे बढ़ा और उसने प्रचंड चक्रवातीय तूफान का रूप ले लिया तथा यह ओडिशा में गोपालपुर से करीब 370 किमी. दूर दक्षिण- दक्षिा पश्चिम में बंगाल की खाड़ी के पश्चिम मध्य क्षेत्र पर मंडरा रहा है।’’ इसमें कहा गया कि इसके अगले 18 घंटे के दौरान और प्रचंड रूप लेने की आशंका है।

चक्रवात के उत्तर-उत्तरपश्चिम की ओर बढ़ने और गुरुवार सुबह तक गोपालपुर और कलिंगापत्तनम के बीच ओडिशा तथा आंध्र प्रदेश के उत्तरी तट को पार करने की आशंका है। भुवनेश्वर में मौसम केंद्र के निदेशक एच आर बिस्वास ने बताया कि इसके बाद चक्रवात के ओडिशा पार करके पश्चिम बंगाल के गंगा तटीय क्षेत्रों की ओर बढ़ने की संभावना है तथा उसके बाद यह धीरे-धीरे कमजोर हो जाएगा। तटीय ओडिशा के कुछ इलाकों में बुधवार को बारिश हुई।

मौसम विभाग ने गुरुवार तक कई इलाकों में ‘‘भारी से बहुत भारी वर्षा’’ और कुछ इलाकों में ‘‘अत्यधिक भारी बारिश’’ का अनुमान जताया है। मौसम विभाग ने मछली पकड़ने के लिए ना जाने तथा तट पर रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी है। मछुआरों को शुक्रवार तक समुद्र में ना उतरने की सलाह दी गई है।

ओडिशा सरकार राज्य में भारी बारिश के मद्देनजर बाढ़ की आशंका को लेकर भी सतर्क है। राज्य सरकार ने सभी जिलों में पहले ही हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। अधिकारियों ने बताया कि जिलाधीशों को सतर्क रहने और निचले इलाकों मे रह रहे लोगों को स्थानांतरित करने के लिए कहा गया है।

ओडिशा के छात्रों ने त्रिपुरा में यातना दिए जाने का लगाया आरोप

राज्य सरकार ने बुधवार से गजपति, गंजम, पुरी और जगतसिंहपुर जिलों में स्कूलों, कॉलेजों तथा आंगनवाड़ी केंद्रों को बंद करने के आदेश दिए हैं। बाढ़ की आशंका के चलते 11 अक्टूबर तक करीब 300 मोटरचालित नौकाओं का बंदोबस्त किया गया है। मुख्य सचिव ए पी पाधी ने बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और ओडिशा आपदा त्वरित कार्रवाई बल के साथ दमकल कर्मियों को विभिन्न जिलों में भेजा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen + nineteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।