लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

उत्तर भारत में ठंड का प्रकोप जारी; कश्मीर में फिर हुई बर्फबारी

उत्तर भारत में ठंड का प्रकोप शनिवार को भी जारी रहा, जबकि कश्मीर के कई हिस्सों में फिर से बर्फबारी हुई, जिसके चलते केंद्र शासित प्रदेश में उड़ानों का आवागमन प्रभावित हुआ।

उत्तर भारत में ठंड का प्रकोप शनिवार को भी जारी रहा, जबकि कश्मीर के कई हिस्सों में फिर से बर्फबारी हुई, जिसके चलते केंद्र शासित प्रदेश में उड़ानों का आवागमन प्रभावित हुआ। 
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, दिल्ली और मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में घना कोहरा छाया रहा। 
कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी, केरल और कश्मीर में कई स्थानों पर भारी वर्षा हुई। 
दिल्ली में न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 10.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 
आईएमडी ने बताया कि शहर में तीन जनवरी से लगातार न्यूनतम तापमान सामान्य तापमान से अधिक बना हुआ है। सफदरजंग वेधशाला ने शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस, बृहस्पतिवार को न्यूनतम तापमान 14.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जो कि पिछले चार वर्षों में जनवरी में सबसे ज्यादा था। 
आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी के ऊपर बादल छाए रहने की वजह से न्यूनतम तापमान में ज्यादा गिरावट दर्ज नहीं की जा रही है। 
आईएमडी ने बताया कि दिल्ली में न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट होने की संभावना है क्योंकि शनिवार से बर्फीले पहाड़ों से उत्तरपश्चिमी हवाएं मैदानी इलाकों की ओर चलनी शुरू हुई हैं। 
जम्मू कश्मीर में श्रीनगर और घाटी के कुछ अन्य इलाकों में शनिवार को फिर बर्फबारी हुई, जिससे यहां हवाई अड्डे पर विमानों का परिचालन बाधित हुआ। 
उन्होंने बताया कि ताजा बर्फबारी तड़के शुरू हुई। इस सप्ताह की शुरुआत में लगातार चार दिन तक बर्फबारी हुई, जिससे पूरा इलाका बर्फ की चादर से ढंका नजर आया। 
अधिकारियों ने बताया कि सुबह 8.30 बजे तक श्रीनगर में चार इंच बर्फबारी हुई। 
अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में कुलगाम में पांच इंच, अनंतनाग में तीन, शोपियां में तीन और पुलवामा में चार इंच बर्फबारी दर्ज की गई। उत्तर कश्मीर के बांदीपोरा में दो इंच बर्फ गिरी वहीं मध्य कश्मीर के बडगाम और गांदेरबल जिलों में तीन इंच बर्फबारी हुई। 
अधिकारियों ने कहा कि उत्तरी कश्मीर में गुलमर्ग के प्रसिद्ध स्की-रिजॉर्ट और दक्षिण में पहलगाम पर्यटन स्थल पर बर्फबारी की कोई खबर नहीं है। 
उन्होंने बताया कि घाटी के कुछ अन्य इलाकों में बारिश भी हुई। 
मौसम विभाग के कार्यालय ने शनिवार को जम्मू कश्मीर में दूर-दराज के स्थानों पर बहुत हल्की बारिश या बर्फबारी होने का पूर्वानुमान व्यक्त किया था। विभाग ने यह भी कहा था कि भारी मात्रा में बर्फबारी का पूर्वानुमान नहीं है और मौसम 14 जनवरी तक शुष्क रहने की संभावना है। 
अधिकारियों ने कहा कि ताजा बर्फबारी के कारण हवाई यातायात प्रभावित हुआ और श्रीनगर हवाई अड्डे से विमान परिचालन नहीं हुआ। 
उन्होंने कहा कि हवाईपट्टी पर बर्फ जमा होने के कारण विमान संचालन में बाधा आ रही है और इससे कई उड़ानों में देरी हुई है। 
अधिकारियों ने कहा,‘‘ आज उड़ानों में देरी होने की संभावना है, वहीं कई उड़ाने रद्द भी की गई हैं।’’ 
अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग सातवें दिन शनिवार को यातायात के लिए बंद रहा। 
उन्होंने कहा कि 260 किलोमीटर लंबा राजमार्ग इस सप्ताह की शुरुआत में भारी बर्फबारी और भूस्खलन के कारण बंद हो गया था, जिसे शुक्रवार को साफ कर दिया गया और सबसे पहले फंसे हुए वाहनों को जाने की अनुमति दी गई लेकिन यहां अभी किसी नए यातायात को अनुमति नहीं दी गई है।
अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.0 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। 
हिमाचल प्रदेश में, केलांग और कल्पा में तापमान शून्य डिग्री से नीचे रहा। 
शिमला मौसम केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि आदिवासी जिला लाहौल और स्पीति का प्रशासनिक केंद्र केलांग माइनस 9 डिग्री सेल्सियस के साथ राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा। 
उन्होंने कहा कि किन्नौर जिले के कल्पा में शून्य से 3.8 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज किया गया। 
मनाली, डलहौजी और कुफरी में न्यूनतम तापमान क्रमशः 1, 2.5 और 4.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 
पंजाब और हरियाणा में भी ठंड का प्रकोप जारी रहा, हालांकि, इस क्षेत्र में न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया गया। 
भारत मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री अधिक 10.8 डिग्री सेल्सियस रहा। 
मौसम विभाग ने बताया कि पंजाब के अमृतसर, लुधियाना और पटियाला में न्यूनतम तापमान क्रमश: 9.4 डिग्री, 10.7 डिग्री और 10.3 डिग्री सेल्सियस मापा गया। 
पठानकोट, आदमपुर, बठिंडा, फरीदकोट और गुरदासपुर का न्यूनतम तापमान क्रमश: 11.6 डिग्री, 8.7 डिग्री, 6.3 डिग्री, 7.5 डिग्री और 8.8 डिग्री सेल्सियस रहा। 
मौसम विभाग के अनुसार हरियाणा के अंबाला, हिसार और करनाल में तापमान क्रमश: 9.6 डिग्री, 7.2 डिग्री और 9.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 
नारनौल, रोहतक, भिवानी और सिरसा का न्यूनतम तापमान क्रमश: 10.5 डिग्री, 10.8 डिग्री, 8.8 डिग्री और 7.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 
अंबाला, पटियाला, पठानकोट, बठिंडा, लुधियाना और सिरसा में कोहरा छाया रहा। 
राजस्‍थान के अधिकांश हिस्‍से कड़ाके की सर्दी की चपेट में हैं जहां बीते चौबीस घंटे में सबसे कम तापमान पाली के एरनपुरा में पांच डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 
मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार रात बीकानेर में 6.6 डिग्री, श्रीगंगानगर में 7.2 डिग्री, जैसलमेर में 7.3 डिग्री न्‍यनूतम तापमान दर्ज किया गया। इसी तरह बाड़मेर में यह 8.1 डिग्री, चुरू में 9.5 डिग्री, जोधपुर में 10.2 डिग्री व पिलानी में 10.4 डिग्री सेल्सियस रहा। 
इस बीच बीते चौबीस घंटे में राज्‍य के कोटा, बूंदी तथा सवाई माधोपुर में क्रमश 18.7 मिमी, चार मिमी व दो मिमी बारिश हुई है। राज्‍य के अनेक जिलों में शनिवार सुबह भी घना कोहरा छाया रहा। राजधानी जयपुर में भी बादल छाये रहे और सर्द हवाएं चलीं। 
मौसम विभाग के अनुसार राज्‍य में आने वाले चौबीस घंटों में सर्दी और जोर पकड़ेगी। इसके अनुसार 10 जनवरी से न्यूनतम तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आएगी जबकि 11-12 जनवरी राज्‍य के उत्तरी भागों में शीतलहर चलेगी। 
पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में गरज के साथ हल्‍की बारिश हुई जबकि पूर्वी उत्तर प्रदेश में मौसम शुष्‍क रहा। 
मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश की राजधानी लखनऊ में न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि प्रयागराज में न्यूनतम तापमान 15.4 डिग्री, गोरखपुर में 12.0 डिग्री, झांसी में 13.5 डिग्री, वाराणसी में 14.1 डिग्री और मेरठ में 9.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 
फर्रुखाबाद जिले में फतेहगढ़ राज्य का सबसे ठंडा स्थान था, जहां पारा 7.3 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। 
विभाग के अनुसार 10 जनवरी को राज्य में मौसम शुष्क रहने की संभावना है जबकि 11 जनवरी और 12 जनवरी को सुबह अलग-अलग स्थानों पर मौसम शुष्क रहने और कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान है। 
मौसम विभाग ने अगले तीन-चार दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान में 3-5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना जताई है, जिससे पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में 11 से 13 जनवरी तक शीत लहर की स्थिति बन सकती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen + nine =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।