लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

PM मोदी ने ओडिशा में 68,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का किया शुभारंभ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ओडिशा में 68,000 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया।
70,000 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाएं शुरू
पीएम मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज ओडिशा की विकास यात्रा में एक महत्वपूर्ण अवसर है, क्योंकि शिक्षा, रेलवे, सड़क, बिजली और पेट्रोलियम क्षेत्रों में लगभग 70,000 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाएं शुरू की जा रही हैं।
उन्होंने कहा कि ओडिशा में समाज के गरीब वर्ग, मजदूरों, कामकाजी वर्ग, व्यापार मालिकों और किसानों सहित समाज के अन्य सभी वर्गों को शनिवार को उद्घाटन की गई विशाल विकास परियोजनाओं का लाभ मिलेगा और इससे हजारों लोगों का विकास भी होगा।
भारत का विकसित तभी होगा जब सभी राज्य विकसित होंगे – पीएम
पीएम मोदी ने पिछले 10 वर्षों के दौरान ओडिशा के तीव्र आर्थिक विकास में केंद्र सरकार की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विकसित भारत का लक्ष्य केवल तभी हासिल किया जा सकता है, जब सभी राज्य विकसित होंगे।
प्रधानमंत्री ने बताया कि ओडिशा के पेट्रोलियम और पेट्रोकेमिकल क्षेत्र में लगभग 1.25 लाख करोड़ रुपये का निवेश हुआ है, जबकि पीएम ग्राम सड़क योजना के तहत ओडिशा के ग्रामीण क्षेत्रों में 50,000 किलोमीटर सड़कों का निर्माण और 4,000 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण भी राज्य में हुआ है।
खनन नीति में बदलाव के बाद ओडिशा की आय 10 गुना बढ़ी – पीएम
उन्होंने यह भी कहा कि खनन नीति में बदलाव के बाद ओडिशा की आय 10 गुना बढ़ गई है।
पीएम मोदी ने कहा कि ओडिशा को अब तक 25,000 करोड़ रुपये से अधिक मिले हैं और इस पैसे का इस्तेमाल उन क्षेत्रों में लोगों के कल्याण के लिए किया जा रहा है जहां खनन हो रहा है।
प्रधानमंत्री ने ओडिशा के लोगों को यह भी आश्‍वासन दिया कि केंद्र सरकार उसी समर्पित भावना के साथ राज्य के विकास के लिए काम करती रहेगी।
राष्ट्र उन लोगों को कभी नहीं भूलता जो अपना जीवन इसकी सेवा में समर्पित करते हैं – पीएम मोदी
भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्‍न दिए जाने के फैसले पर खुशी व्यक्त करते हुए… मोदी ने कहा, ”आडवाणी जी को भारत रत्‍न से सम्मानित करना इस बात का प्रतीक है कि राष्ट्र उन लोगों को कभी नहीं भूलता जो अपना जीवन इसकी सेवा में समर्पित करते हैं।”
शनिवार को पीएम मोदी ने जगदीशपुर-हल्दिया और बोकारो-धामरा पाइपलाइन परियोजना (जेएचबीडीपीएल) के 412 किलोमीटर लंबे धामरा-अंगुल पाइपलाइन खंड का उद्घाटन किया।
प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना के तहत 2,450 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से निर्मित यह परियोजना ओडिशा को राष्ट्रीय गैस ग्रिड से जोड़ेगी।
28,980 करोड़ रुपये की कई बिजली परियोजनाओं की रखी नींव
पीएम मोदी ने यह परियोजना राष्ट्र को समर्पित की और लगभग 28,980 करोड़ रुपये की कई बिजली परियोजनाओं की नींव रखी, जिसमें सुंदरगढ़ जिले में एनटीपीसी दर्लिपाली सुपर थर्मल पावर स्टेशन (2×800 मेगावाट) और एनएसपीसीएल राउरकेला पीपी-द्वितीय विस्तार परियोजना (1×250 मेगावाट) शामिल हैं।
उन्होंने अंगुल जिले में एनटीपीसी तालचेर थर्मल पावर प्रोजेक्ट, स्टेज-III (2×660 मेगावाट) और 27,000 करोड़ रुपये से अधिक की नेवेली लिग्नाइट कॉर्पोरेशन (एनएलसी) तालाबीरा थर्मल पावर परियोजना की नींव रखी।
इसके अलावा, प्रधानमंत्री ने महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड की लगभग 2,145 करोड़ रुपये की कोयला बुनियादी ढांचा परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित किया, जिसमें फर्स्ट माइल कनेक्टिविटी (एफएमसी) परियोजनाएं शामिल हैं – अंगुल में तालचेर कोलफील्ड्स में भुवनेश्वरी चरण-I और लाजकुरा रैपिड लोडिंग सिस्टम ( आरएलएस)।
पीएम मोदी ने झारसुगुड़ा जिले में 550 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनी आईबी वैली वाशरी और महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड द्वारा 878 करोड़ रुपये के निवेश से निर्मित झारसुगुड़ा-बारपाली-सरडेगा रेल लाइन चरण-1 के 50 किमी लंबे दूसरे ट्रैक का भी उद्घाटन किया।
इसी तरह, प्रधानमंत्री ने लगभग 2,110 करोड़ रुपये की संचयी लागत से विकसित राष्ट्रीय राजमार्गों की तीन सड़क क्षेत्र परियोजनाओं का उद्घाटन किया।
पीएम मोदी ने 2,146 करोड़ रुपये की रेलवे परियोजनाएं भी राष्ट्र को समर्पित कीं
पीएम ने करीब 2,146 करोड़ रुपये की रेलवे परियोजनाएं भी राष्ट्र को समर्पित कीं। उन्होंने संबलपुर रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास की नींव रखी, जिसकी वास्तुकला शैलश्री पैलेस से प्रेरित है।
उन्होंने झारसुगुड़ा प्रधान डाकघर विरासत भवन भी राष्ट्र को समर्पित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 + 12 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।