मनी लॉन्ड्रिंग केस में मंगलवार को ED के समक्ष पेश नहीं हो सकेंगे फारूक अब्दुल्ला

फारूक अब्दुल्ला

धन शोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा तलब किए गए नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला ने एजेंसी को सूचित किया है कि वह मंगलवार को यहां उसके सामने पेश नहीं हो सकेंगे क्योंकि वह शहर से बाहर हैं। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने कहा कि श्रीनगर से लोकसभा सदस्य ने एक ईमेल और एक पत्र के माध्यम से ईडी अधिकारियों को इसकी जानकारी दी है। अब्दुल्ला को मंगलवार को श्रीनगर में ईडी कार्यालय में उपस्थित होने के लिए कहा गया था। सूत्रों ने कहा कि वह फिलहाल जम्मू में हैं।

  • धन शोधन मामले में फारूक अब्दुल्ला आज ED के सामने पेश नहीं होंगे
  • इसका कारण उन्होंने शहर से बाहर होना बताया है
  • श्रीनगर से लोकसभा सदस्य ने ED अधिकारियों को यह जानकारी दी है

पहले भी पेश नहीं हुए फारूक

Farooq Abdullah1

फारूक अब्दुल्ला को केंद्रीय एजेंसी ने पिछली बार इस मामले में 11 जनवरी को तलब किया था, लेकिन वह तब भी पेश नहीं हुए थे। ईडी की जांच जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन में कथित वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित है। ईडी ने 2022 में इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री को आरोपी बनाया था। यह मामला केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) द्वारा 2018 में दायर आरोपपत्र पर आधारित है। श्रीनगर के सांसद और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. फारूक अब्दुल्ला को प्रवर्तन निदेशालय ने मंगलवार को पेश होने के लिए बुलाया था। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि डॉ. अब्दुल्ला को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए बुलाया गया था। ईडी ने नेशनल कॉन्‍फ्रेंस के संरक्षक को इससे पहले इस साल 11 जनवरी को एजेंसी के श्रीनगर कार्यालय में पेश होने के लिए बुलाया था, लेकिन वह पेश नहीं हुए थे।

कितने करोड़ के घोटाले

ED 2

ईडी ने 2018 में इस मामले में सीबीआई की चार्जशीट को आधार बनाकर पीएमएलए की जांच शुरू की थी। बीसीसीआई की तरफ से 112 करोड़ रुपये एसोसिएशन को दिए गए थे। आरोप है कि उसमें से 43.6 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ है। कथित घोटाला फारूख अबदुल्ला के 2001 से 2012 के बीच जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष रहने के दौरान हुआ।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − five =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।