चुनावी रैलियों में चंडीपाठ करने वाली ममता दीदी भगवान राम का क्यों करती हैं विरोध : योगी आदित्यनाथ

उलुबेरिया में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने बंगाल को गुंडागर्दी और अराजकता की धरती बना दिया है। यहां परिवर्तन इसलिए भी आवश्यक है क्योंकि ममता दीदी अब तक तो भाजपा का विरोध करती थीं लेकिन अब भगवान राम का भी विरोध करने लगी हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण से पहले भाजपा के लिए प्रचार करते हुए शनिवार को हावड़ा जिले में यहां एक रोडशो किया। उलुबेरिया में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने बंगाल को गुंडागर्दी और अराजकता की धरती बना दिया है। यहां परिवर्तन इसलिए भी आवश्यक है क्योंकि ममता दीदी अब तक तो भाजपा का विरोध करती थीं लेकिन अब भगवान राम का भी विरोध करने लगी हैं।
1617439994 12
जिले के गंगारामपुर इलाके में फूलों और भाजपा के झंडों से सजे वाहन पर खड़े होकर आदित्यनाथ ने वहां एकत्रित उत्साहित लोगों की भीड़ का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। इस जिले में दो निर्वाचन क्षेत्रों उलुबेरिया उत्तर और उलुबेरिया दक्षिण में छह अप्रैल को मतदान होना है। ‘जय श्री राम’ के नारों के बीच तंग गलियों से गुजरे रोडशो को देखने के लिए सड़क के दोनों ओर बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए।
1617439979 13
उन्होंने कहा, ‘‘ यह स्वामी विवेकानंद, रवीन्द्रनाथ टैगोर, श्यामा प्रसाद मुखर्जी की भूमि है जिसने पूरे देश को प्रेरित किया है। लेकिन अब यह तृणमूल के पाले-पोसे गुंडों और उगाही करने वालों की धरती बन गयी है।’’ तृणमूल और वाम मोर्चा ने माहौल को बदल दिया है और इसे तुष्टीकरण से पीड़ित जगह बना दी है। संकेतों से साफ पता चलता है कि भाजपा यहां बहुमत से सरकार बना लेगी। योगी आदित्यनाथ ने तृणमूल कांग्रेस सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार केन्द, सरकार की कई योजनाओं को लागू नहीं कर रही है।
उन्होंने कहा, ‘‘ मैं समझता हूं कि ममता दीदी की सरकार के दिन अब गिनती के रह गये हैं। राज्य के लोगों ने उन्हें सत्ता से बेदखल कर देने का मन बना लिया है।’’ आदित्यनाथ पश्चिम बंगाल में कई स्थानों पर जा रहे हैं और भाजपा उम्मीदवारों के लिए रैलियां कर रहे हैं।
राज्य में 27 मार्च को पहले चरण के चुनाव में 84.63 प्रतिशत मतदान हुआ था और एक अप्रैल को दूसरे चरण में 86.11 प्रतिशत मतदान हुआ था। राज्य में 31 विधानसभा सीटों पर छह अप्रैल को तीसरे चरण में मतदान होगा। इसके बाद पश्चिम बंगाल में पांच और चरणों में चुनाव होगा और आखिरी चरण में मतदान 29 अप्रैल को होगा। मतगणना दो मई को होगी।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।