लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

RTI की प्रतिक्रिया ना मिलने से अदालत का रुख करेंगे सुवेंदु अधिकारी

Screenshot 51पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि वह निवेश की तलाश में सितंबर में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की विदेश यात्रा का विवरण प्राप्त करने के लिए अदालत का रुख करेंगे। विपक्ष के नेता ने स्पष्ट किया है कि सूचना का अधिकार (आरटीआई) अधिनियम के तहत किए गए मामले में उनके प्रश्न के संबंध में राज्य सरकार के संबंधित विभागों से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिलने पर वह इस मामले में अदालत का दरवाजा खटखटाने के लिए बाध्य होंगे।

आरटीआई अधिनियम, 2005 की धारा 6 के तहत एक आवेदन

अधिकारी ने दावा किया कि 21 सितंबर को उन्होंने राज्य सार्वजनिक सूचना अधिकारी, उद्योग, वाणिज्य और उद्यम विभाग को आरटीआई अधिनियम, 2005 की धारा 6 के तहत एक आवेदन के माध्यम से मुख्यमंत्री की संयुक्त अरब अमीरात और स्पेन की 11 दिवसीय यात्रा के संबंध में आवश्यक जानकारी मांगी थी। उन्होंने यह भी कहा कि इसी तरह के आवेदन गृह विभाग, सूचना एवं सांस्कृतिक मामलों के विभाग और पर्यटन विभाग के राज्य जन सूचना अधिकारियों को भी भेजे गए थे। उन्होंने दावा किया कि संबंधित अधिकारियों में से किसी ने भी 30 दिनों की वैधानिक अवधि के भीतर जवाब नहीं दिया, जिसके बाद उन्होंने 2 नवंबर को उन सभी को एक स्मरण-पत्र भेजा था।

टाल-मटोल तरीके से कार्य

नेता प्रतिपक्ष ने इस मामले में राज्य सरकार के विभागों के अधिकारियों की चुप्पी पर भी सवाल उठाया। अधिकारी ने सवाल किया, ”वे सीएम की विदेश यात्रा के बारे में जानकारी क्यों नहीं दे रहे हैं? वे क्या छिपा रहे हैं? उन्हें ऐसे टाल-मटोल तरीके से कार्य करने और सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 के प्रावधानों का पालन न करने का निर्देश किसने दिया है?”अंत में, उन्होंने कहा कि अगर अगले कुछ दिनों में उन्हें इस मामले में कोई जवाब नहीं मिलता है तो वह इस मामले में अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे। उन्होंने कहा, मैं उनकी प्रतिक्रिया के लिए कुछ और दिनों तक इंतजार करूंगा और फिर इस मामले को लेकर उचित अदालत का दरवाजा खटखटाऊंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 − two =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।