बेखौफ होकर राम रहीम के लिए जान लड़ाने पहुंच रहे है डेरा प्रेमी

NULL

लुधियाना-चंडीगढ़ : डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के मामले में सीबीआई कोर्ट का फैसला आने में भले ही चंद घंटे बाकी बचे है। हरियाणा स्थित पंचकूला की सीबीआई अदालत में गुरमीत राम रहीम की पेशी के लिए किए जा रहे सुरक्षा प्रबंधों की मनीटरिग हाईकोर्ट द्वारा किए जाने की मांग को लेकर हाईकोर्ट में आज जनहित पार्टीशन दाखिल की गई। इसकी सुनवाई वीरवार को होने की संभावना है। एक प्रतिष्ठित वकील ने दाखिल पार्टीशन में स्पष्ट कहा है कि धारा 144 लगी होने के बावजूद पंचकूला में न्यायपालिका को दबाव में लेने के अंदेशे के चलते डेढ़ लाख से ज्यादा अभियुक्त राम रहीम के पैरोपकार इकटठे हो चुके है, जिनमें अधिकांश संख्या औरतों और बच्चों की है।

इसके अतिरिक्त राम रहीम समर्थकों का दावा है कि पंजाब और हरियाणा में उसके 60 लाख से ज्यादा पैरोपकार है। पार्टीशन में यह भी कहा गया कि धारा 144 लगे होने से बावजूद बड़ी संख्या में पंजाब, हरियाणा समेत राजस्थान और उत्तर प्रदेश से लोगों का पहुंचना जारी है। पार्टीशन में कहा है कि धारा 144 लगे होने के बावजूद बड़ी संख्या में डेरा समर्थकों का पहुंचना पुलिस प्रशासन की नाकामी है। लिहाजा सुरक्षा प्रबंधों की मनीटरिंग हाईकोर्ट द्वारा की जानी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि फैसला आने से पहले चंडीगढ़, पंजाब और हरियाणा में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी होने के मध्यनजर जहां समस्त बार्डरों को सील किया गया है वही धारा 144 के तहत 5 या 5 से अन्य व्यक्तियों के इकटठा होने पर कार्यवाही की जा सकती है। इसके अलावा किसी भी शख्स को तेज हथियार या खतरनाक हथियार ले जाने पर पाबंदी लगाई गई है। चंडीगढ़ के सेक्टर 16 स्थित क्रिकेट मैदान को अस्थाई जेल में परिवर्तन किया गया है जबकि अन्य स्थानों क ी भी स्थान निशानदेही कर ली है। उधर पंजाब के मालवा क्षेत्र में अलग-अलग कस्बों, महानगरों में लुधियाना, बठिण्डा, मानसा, पटियाला, बरनाला और संगरूर को भी अति संवेदनशील घोषित किया है।

इन इलाकों में डेरा प्रेमियों के नाम चर्चा घरों में हजारों लोगो के इकटठा होने की समाचार मिले है जबकि पंजाब के अलग-अलग जिलों में पुलिस कमांडो फोर्स और पैरामिल्ट्री फोर्स के जवानों ने संयुक्त रूप से फलैग मार्च किया। डीजीपी पंजाब सुरेश अरोड़ा ने भी बठिण्डा, मोगा और लुधियाना, संगरूर का तूफानी जायजा लिया है और उच्च अधिकारियों को हर हाल सुरक्षा व्यवस्था बनाए जाने के निर्देश दिए है।

– सुनीलराय कामरेड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six + 17 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।