गहलोत सरकार किसानों के समर्थन में तीन जनवरी से धरना आयोजित करेगी

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में बुधवार को आयोजित मंत्रिमंडलीय बैठक में कोविड, किसानों की बिजली के मुद्दे, बजट की तैयारियों, तीन विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव और आगे की योजना और कार्यक्रमों पर चर्चा हुई।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में बुधवार को आयोजित मंत्रिमंडलीय बैठक में कोविड, किसानों की बिजली के मुद्दे, बजट की तैयारियों, तीन विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव और आगे की योजना और कार्यक्रमों पर चर्चा हुई।अधिकारिक सूत्रों के अनुसार बैठक में दो साल के कार्यकाल की समीक्षा करने के बाद सभी मंत्रियों से उनके अपने विभागों की समीक्षा करने के लिये कहा गया है कि नए साल में घोषणा पत्र के अनुसार क्या-क्या कार्यक्रम हाथ में लेने हैं।
सूत्रों के अनुसार मंत्रीमंडलीय बैठक में देश के किसानों के प्रति एकजुटता प्रकट करने के लिए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में तीन जनवरी को धरना आयोजित करने का निर्णय किया गया। बैठक में केन्द्र सरकार द्वारा पारित कृषि कानून को वापस लेने की मांग के समर्थन में 5 जनवरी से मंत्री, विधायक, जनप्रतिनिधि एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा सप्ताहभर तक गांव-गांव जाकर ‘किसान बचाओ-देश बचाओ’ अभियान चलाने का फैसला किया है।
बैठक में कृषि कानूनों को लेकर प्रदेश के तीन संशोधन विधेयक और पांच एकड़ तक जमीन वाले किसानों की जमीन को कुर्की से बचाने वाले विधेयक को अभी तक आगे नहीं भेजा गया इसलिए भी तीन जनवरी को धरने का फैसला लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − fifteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।