Search
Close this search box.

Rajasthan विधानसभा : कांग्रेस के हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित

Rajasthan की सोलहवीं विधानसभा के उद्घाटन सत्र के दौरान सोमवार को विपक्षी कांग्रेस ने पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना (ईआरसीपी) को लेकर हंगामा किया। सदस्यों के वेल में आकर नारेबाजी करने के कारण सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी गई।

vidhansabha

Highlights:

  • डायलिसिस मशीनों की खरीद एवं उसमें भ्रष्टाचार की जांच कराई जायेगी- हनुमान बेनीवाल
  • कांग्रेस के सदस्यों ने सदन में ‘‘ईआरसीपी पर जवाब दो’’ की नारेबाजी लगाई
  • हंगामा बढ़ने के कारण अध्यक्ष ने कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित की

शून्यकाल में राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) के सदस्य हनुमान बेनीवाल के स्थगन प्रस्ताव के तहत आचार संहिता लग जाने के बाद भी डायलिसिस मशीनों की खरीद एवं उसमें भ्रष्टाचार के मुद्दे पर जब चिकित्सा मंत्री गजेन्द, सिंह खींवसर ने अपने जवाब में समाचार पत्र का जिक्र करने पर कांग्रेस सदस्य गोविंद सिंह डोटासरा खड़ हो गए और कहा कि समाचार पत्र से सदन नहीं चलता है। श्री खींवसर ने अपने जवाब में कहा कि वह इस मामले की जांच करायेंगे और जरुरत पड़ तो मामले की भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो से इसकी जांच कराई जायेगी। इस दौरान विपक्ष के नेता टीकाराम जूली खड़ हुए और उन्होंने ईआरसीपी को लेकर हुए समझौते का जिक्र करते हुए कहा कि इस पर सरकार को जवाब देना चाहिए। इस पर सत्ता पक्ष एवं विपक्ष दोनों पक्ष के सदस्यों के खड़ होकर बोलने से सदन में शोरगुल एवं हंगामा हुआ। इसके बाद कांग्रेस के सदस्य सदन की वेल में आ गये और ‘‘ईआरसीपी पर जवाब दो’’ नारेबाजी करने लगे।

ERP

इस दौरान अध्यक्ष वासुदेव देवनानी ने विपक्ष के सदस्यों को शांत करने का प्रयास किया लेकिन वे वेल में नारेबाजी करते रहे और सदन की कार्यवाही चलती रही। हंगामा चलते रहने के बाद अध्यक्ष ने एक बजकर चार मिनट पर सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी।
कांग्रेस सदस्यों ने प्रश्नकाल में भी हंगामा किया और सदन की वेल में आकर नारेबाजी की। प्रश्नकाल में कांग्रेस सदस्य रामनिवास गावडिया ने ‘‘जिला नागौर एवं डीडवाना में घरेलू एवं कृषि कनेक्शन के लंबित आवेदन ’’का प्रश्न उठाया और अपने पूरक प्रश्न में कहा कि उनके प्रश्नों का जवाब नहीं आता। इस दौरान श्री जूली ने कहा कि सदन में बिजली पर चर्चा करानी चाहिए। इस दौरान सत्ता एवं विपक्ष के दोनों पक्ष के सदस्यों के बोलने पर सदन में शोरगुल हुआ और कांग्रेस सदस्य वेल में आ गए और नारेबाजी करनी शुरु कर दिया पांच-छह मिनट तक नारेबाजी के बाद प्रश्नकाल समाप्त होने पर हंगामा शांत हो गया।

शून्यकाल में शेकाभिव्यक्ति के बाद भी पूर्व विधानसभा अध्यक्ष हरिशंकर भाभड़ की स्मृति में आधा घंटा सदन की कार्यवाही स्थगित की गई। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्य कालीचरण सराफ ने सदन से निवेदन किया कि श्री भाभड़ की स्मृति में सदन की कार्यवाही को आधे घंटा स्थगित करना चाहिए। इस पर अध्यक्ष ने 12.07 बजे आधे घंटे के लिए स्थगित किया।

 

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + ten =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।