ICC Under-19 Men’s World Cup : उदय और सचिन की दमदार पारी से अंडर-19 के फाइनल में पहुंचा भारत

मंगलवार को आईसीसी अंडर19 पुरुष क्रिकेट विश्‍व कप 2024 टूर्नामेंट में कप्तान उदय सहारन और मध्यक्रम के बल्लेबाज सचिन धस के अर्धशतकों और पांचवें विकेट के लिए 171 रनों की साझेदारी की बदौलत भारत अंडर-19 ने रोमांचक पहले सेमीफाइनल में मेजबान दक्षिण अफ्रीका अंडर-19 को दो विकेट से हरा दिया।
अजेय भारत, गत चैंपियन और मेजबान दक्षिण अफ्रीका के बीच मुकाबला अपनी उम्मीदों के अनुरूप रहा और भारत ने कड़ी टक्कर में जीत हासिल की। उदय सहारन और सचिन धास की शानदार बल्लेबाजी की बदौलत भारत 12वें ओवर में 32/4 की नाजुक स्थिति से उबरकर राज लिम्बानी के 3-60 रन की बदौलत दक्षिण अफ्रीका को 50 ओवर में 244/7 पर रोकने के बाद 248/6 पर पहुंच गया।
11 फरवरी को फाइनल
सहारन की टीम के पास अब रविवार (11 फरवरी) को फाइनल में अपना खिताब बचाने का मौका होगा। भारत को अब गुरुवार को ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल मैच के विजेता का इंतजार है, ताकि खिताबी मुकाबले में उनका मुकाबला किससे होगा।
भारत ने की पहले गेंदबाजी
पहले चार मैचों में चार टॉस हारने के बाद सहारन ने लगातार दूसरे मैच में सही प्रदर्शन किया और पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया। यह पहली बार था कि भारत ने टूर्नामेंट में पहले गेंदबाजी की, अब तक अपनी पांच जीतों में से प्रत्येक में बल्लेबाजी की।
एक बार फिर टूर्नामेंट में अपनी पारंपरिक आक्रामकता का प्रदर्शन करते हुए दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाज स्टीव स्टोक ने शुरुआत में मोर्चा संभाला और पहले तीन ओवरों में दो चौके लगाए। उन्होंने पांचवें ओवर में राज लिम्बानी की गेंद पर अधिकतम स्कोर के साथ अपना आक्रमण जारी रखा, लेकिन यह भारतीय तेज गेंदबाज ही थे, जिनकी आखिरी हंसी थी, क्योंकि स्टोक के कट प्रयास के परिणामस्वरूप गेंद सीधे विकेटकीपर के हाथों में चली गई।
इसके बाद लुआन-ड्रे प्रीटोरियस ने 8वें ओवर में नमन तिवारी के खिलाफ एक छक्का और एक चौका लगाया। दो विकेट के नुकसान से प्रभावित हुए बिना प्रीटोरियस ने आक्रामक शॉट खेलना जारी रखा और पावरप्ले के अंत में दक्षिण अफ्रीका एक रन-ए-बॉल के करीब जा रहा था।
सहारन ने अपने स्पिनरों को खेल में शामिल करने का फैसला किया, जिससे दक्षिण अफ्रीका के स्कोरिंग पर प्रभावी ढंग से अंकुश लगा – 11 से 30 के अंतराल में केवल पांच चौके लगाए गए। हालांकि, प्रीटोरियस और रिचर्ड सेलेट्सवेन के बीच साझेदारी ने रनों का एक स्थिर प्रवाह सुनिश्चित किया, जिससे प्रीटोरियस 59 गेंदों पर आधे शतक तक पहुंच गया।
चार से कम रन रेट के साथ बढ़ते दबाव प्रीटोरियस पर आ गया, जिसने मुशीर खान को मिड-विकेट पर मारने की कोशिश की, लेकिन मुरुगन अभिषेक ने शानदार प्रतिक्रिया दिखाते हुए शानदार कैच लपका। जब सेलेट्सवेन और ओलिवर व्हाइटहेड ने 45 रन की साझेदारी की तो प्रोटियाज़ की सीमाओं में वृद्धि देखी गई। जैसे ही साझेदारी खतरनाक दिखने लगी, मुशीर ने अपने स्पेल की आखिरी गेंद पर व्हाइटहेड को आउट कर दिया।
खतरनाक दीवान मरैस के प्रवेश में देरी करने का दक्षिण अफ्रीका का निर्णय असफल साबित हुआ, क्योंकि उन्होंने सौम्या पांडे को केवल 3 रन के स्कोर पर सीमा के अंदर आउट कर दिया।
दो विकेटों के बीच, सेलेट्सवेन ने धैर्यपूर्ण अर्धशतक बनाया, लेकिन इस उपलब्धि तक पहुंचने के लिए 90 गेंदें लेने के बाद, युवा खिलाड़ी स्कोरिंग दर की भरपाई करने की कोशिश में गिर गया। 45वें ओवर में लिम्बनी को दो चौके मारने के बाद, सेलेट्सवेन ने अगले ओवर में नमन तिवारी पर हमला करने की कोशिश की, लेकिन प्रियांशु मोलिया ने डीप से दौड़कर अच्छा कैच लपक लिया। जुआन जेम्स भी 19 गेंद में 24 रन की ठोस पारी खेलकर आउट हो गए, जिससे दो ओवर शेष रहते दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 221/7 हो गया।
दक्षिण अफ्रीका ने भारत को दिया 245 रनों का लक्ष्य
ट्रिस्टन लुस ने अंतिम दो ओवरों में दो छक्के और एक चौका लगाकर पारी को कुछ जरूरी गति दी और 12 गेंदों पर नाबाद 23 रन बनाए। परिणामस्वरूप, दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 245 रनों का लक्ष्य दिया। यह पहली बार था जब किसी टीम ने टूर्नामेंट में भारत के खिलाफ 200 रन का आंकड़ा पार किया था।
लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत की शुरुआत खराब रही और पारी की पहली ही गेंद पर क्वेना मफाका ने सफलता हासिल कर ली। आदर्श सिंह ने एक तेज बाउंसर के सामने खुद को असहाय पाया और अजीब तरह से कीपर को उकसाया। शॉर्ट गेंद एक बार फिर भारत के लिए पतन साबित हुई, क्योंकि ट्रिस्टन लुस के सटीक निर्देशित बाउंसर ने खतरनाक मुशीर खान को चकमा दे दिया, जिससे टूर्नामेंट में अग्रणी रन-स्कोरर के आउट होने के बाद दक्षिण अफ्रीकी खेमे में बड़े पैमाने पर जश्‍न मनाया गया।
हालांकि, लिम्बानी फिर से लय में आ गए और ओवर की अंतिम गेंद पर चौका लगाकर अपना अजेय क्रम जारी रखा और फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली।
संक्षिप्त स्कोर :
दक्षिण अफ्रीका 50 ओवर में 244/7 (लुआन-ड्रे प्रिटोरियस 76, रिचर्ड सेलेट्सवेन 64, राज लिम्बानी 3-60, मुशीर खान 2-43) भारत से 48.5 ओवर में 248/8 से हार गया (सचिन धास 96, उदय सहारण 81, क्वेना) मफाका 3-32, ट्रिस्टन लुस 3-37) 2 विकेट से।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।