IOA : पीटी उषा को CEO पर पूरा भरोसा, CEO अमान्य घोषित किया जाएगा ?

भारतीय ओलंपिक संघ IOA की प्रमुख पीटी उषा ने रविवार को कहा कि उन्हें नवनियुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी CEO पर पूरा भरोसा है और उन्हें शीर्ष पद पर नियुक्त करने के फैसले से पीछे नहीं हटेंगी।इस तरह की खबरें हैं कि आईओए कार्यकारी परिषद के अधिकांश सदस्य एक निलंबन आदेश पर हस्ताक्षर करेंगे जिसमें सीईओ के रूप में रघुराम अय्यर की नियुक्ति को अमान्य घोषित किया जाएगा।IOA ने एक साल बाद और अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी)के बार-बार याद दिलाने के बाद छह जनवरी को इंडियन प्रीमियर लीग टीम राजस्थान रॉयल्स के पूर्व अधिकारी अय्यर को CEO नियुक्त किया था।

HIGHLIGHTS

  • भारतीय ओलंपिक संघ IOA की प्रमुख पीटी उषा ने रविवार को कहा कि उन्हें नवनियुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी CEO पर पूरा भरोसा है
  • IOA की कार्यकारी परिषद के कई सदस्यों ने आरोप लगाया कि महान खिलाड़ी उषा ने सीईओ के रूप में अय्यर की नियुक्ति का मार्ग प्रशस्त करने के लिए उन पर दबाव डाला था।
  • एक समारोह में उषा से CEO प्रकरण पर टिप्पणी करने के लिए कहा गया तो उन्होंने कहा, CEO काम कर रहे हैं।pt usha large 1127 17

हालांकि उनकी नियुक्ति के कुछ हफ्तों के भीतर IOA की कार्यकारी परिषद के कई सदस्यों ने आरोप लगाया कि महान खिलाड़ी उषा ने सीईओ के रूप में अय्यर की नियुक्ति का मार्ग प्रशस्त करने के लिए उन पर दबाव डाला था। उषा ने इस आरोप को शर्मनाक बताया। कार्यकारी परिषद के 15 में से लगभग 12 सदस्यों ने तब कहा था कि अय्यर की नियुक्ति को शीर्ष संस्था ने मंजूरी नहीं दी थी। यह पूछे जाने पर कि क्या IOA अध्यक्ष बनने के बाद से वह समस्याओं से घिरी हुई लगती हैं, उषा ने कहा, हर बार। इसे हल करना पड़ता है। जब आप गलत काम करते हैं, तो आपको डरना पड़ता है। जब आप सही और उचित काम कर रहे होते हैं तो फिर इस पर चिंता क्यों।

दिल्ली खेल पत्रकार संघ (डीएसजेए) और भारतीय खेल पत्रकार महासंघ (एसजेएफआई) द्वारा यहां आयोजित एक समारोह में उषा से CEO प्रकरण पर टिप्पणी करने के लिए कहा गया तो उन्होंने कहा, CEO काम कर रहे हैं। मैं पहले ही उचित तरीके से नियुक्ति कर चुकी हूं और वह काम कर रहे हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या कार्यकारी परिषद के कई सदस्यों के कथित तौर पर उन्हें हटाने की इच्छा के बावजूद क्या वह अपना सामान्य कामकाज कर सकेंगे, उषा ने कहा, शत प्रतिशत (वह बने रहेंगे)। क्यों नहीं? वह एक बहुत अच्छे सीईओ हैं। खेल पत्रकारों द्वारा पदक, प्रशस्ति पत्र और स्मृति चिह्न से सम्मानित होने के बाद उन्होंने कहा, हम हमेशा चाहते थे कि आईओए में एक बड़ा (सीईओ पद पर एक प्रसिद्ध व्यक्ति) अधिकारी हो… और इससे बहुत बड़े पैमाने पर खेलों में मदद मिल सकती है। मैं इसी तरह से सोच रही हूं।pti07312022000103a 1 1173500 1671539973

उन्होंने कहा, मुझे उन CEO पर भरोसा है और वह अब जो कुछ भी कर रहे हैं, उस पर मुझे भरोसा है। इस अवसर पर जाने माने पिस्टल निशानेबाज जसपाल राणा और भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला भी उपस्थित थे जो सम्मानित अतिथि थे। उन्होंने उषा को लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए पदक और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। उषा ने बाद में बयान जारी करके भी कहा कि ना तो (आईओए) अध्यक्ष और ना ही CEO का कार्यकारी परिषद के सदस्यों से कोई संवाद हुआ है (सीईओ की नियुक्ति के कथित निलंबन पर)। टेनिस के दिग्गज विजय अमृतराज, पूर्व दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण, महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर और पूर्व धावक मिल्खा सिंह के बाद उषा एसजेएफआई और डीएसजेए लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार पाने वाली पांचवीं खिलाड़ी हैं। उषा ने देश के लिए 103 अंतरराष्ट्रीय पदक जीते। उन्होंने एशियाई खेलों में चार स्वर्ण पदक और सात रजत पदक जीते और तीन बार ओलंपिक में प्रतिस्पर्धा की।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × five =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।