CISCE बोर्ड : 10वीं और 12वीं का रिजल्ट जारी, 99.98 % स्टूडेंट्स ने मारी बाजी

काउंसिल फॉर दे इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) ने आज 10वीं और 12वीं कक्षा के परिणाम घोषित कर दिया। परीक्षार्थी cisce.org व results.cisce.org जाकर अपना परिणाम चेक कर सकेंगे।

काउंसिल फॉर दे इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) ने आज 10वीं और 12वीं कक्षा के परिणाम घोषित कर दिया। परीक्षार्थी cisce.org व results.cisce.org जाकर अपना परिणाम चेक कर सकेंगे। बोर्ड ने कोविड-19 की खतरनाक दूसरी लहर के मद्देनजर दोनों कक्षाओं के लिए परीक्षा रद्द कर दी थी। परीक्षा परिणाम बोर्ड द्वारा निर्धारित वैकल्पिक मूल्यांकन नीति के आधार पर घोषित हुई है।
असाधारण परिस्थितियों को देखते हुए इस साल कक्षा 10वीं व 12वीं की कोई मेधा सूची नहीं
वहीं बोर्ड ने कहा कि असाधारण परिस्थितियों को देखते हुए इस साल कक्षा 10वीं व 12वीं की कोई मेधा सूची नहीं है। सीआईएससीई कक्षा 10वीं का परिणाम में लड़के और लड़कियों, दोनों का उत्तीर्ण प्रतिशत 99.8 फीसदी रहा। वहीं सीआईएससीई कक्षा 12वीं के नतीजे में लड़कियों ने लड़कों को 0.2 प्रतिशत के अंतर से पछाड़ा।
99.98 फीसदी स्टूडेंट्स पास
इस साल सीआईएससीई के लिए कुल 1,18,846 छात्र योग्य थे, उनमें से 1,18,819 यानि  99.98 प्रतिशत को सफल घोषित किया गया है। वहीं परीक्षा के योग्य छात्राओं की संख्या 1,00,653 थी और उनमें से 1,00,635 यानी 99.98 प्रतिशत ने इस साल क्वालीफाई किया है।
ऐसे करें रिजल्ट चेक 
  • मोबाइल पर ICSE RESULT 2021 प्राप्त करने के लिए ICSE लिखकर 09248082883 पर SMS करें।
  • मोबाइल पर ISC RESULT 2021 प्राप्त करने के लिए ISC लिखकर 09248082883 पर SMS करें।
  • परीक्षार्थी cisce.org व results.cisce.org पर जाकर अपना परिणाम चेक कर सकते हैं।
उत्तर पुस्तिकाओं की फिर से जांच का विकल्प उपलब्ध नहीं होगा
सीआईएससीई के मुख्य कार्यकारी और सचिव गेरी अराथून ने बताया, “ कक्षा 10वीं में लड़के और लड़कियों, दोनों का उत्तीर्ण प्रतिशत 99.8 फीसदी रहा। 12वीं कक्षा में लड़कियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 99.86 रहा जबकि लड़कों का 99.66 फीसदी रहा।” अराथून ने बताया कि पिछले वर्षों के उलट इस बार उत्तर पुस्तिकाओं की फिर से जांच का विकल्प उपलब्ध नहीं होगा क्योंकि विद्यार्थियों को निर्धारित पद्धति से अंक दिए गए हैं। हालांकि, अंक गणना में त्रुटियां, यदि कोई हो तो उसमें सुधार के लिए विवाद समाधान प्रणाली स्थापित की जाएगी।
स्टूडेंट्स को अगर मार्क्स कैलकुलेशन में गलती नजर आती है तो वह अपने स्कूल से कर सकते हैं लिखित अनुरोध 
केंद्रीय बोर्ड ने कहा है कि स्टूडेंट्स को अगर मार्क्स के कैलकुलेशन में कोई गलती नजर आती है तो वह उसमें करेक्शन के लिए अपने स्कूल से लिखित में अनुरोध कर सकते हैं। स्कूल प्रमुख इस अनुरोध को आवश्यक दस्तावेजों के साथ समीक्षा के लिए बोर्ड को भेजेंगे। स्कूलों से कहा गया है कि वह किसी भी अनुरोध को बोर्ड के पास भेजने से पहले भली भांति अपने स्तर पर उसकी जांच कर लें। सीआईएससीई के पास इस तरह के अनुरोध 1 अगस्त तक भेजे जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।