COVID-19: कोविड-19 टीके की दूसरी एवं एहतियाती खुराक के बीच अंतराल घटाकर छह माह किया गया

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एनटीएजीआई की सिफारिश पर सभी लाभार्थियों के लिए कोविड-19 टीके की दूसरी एवं एहतियाती खुराकों के बीच अंतराल नौ महीने से घटाकर छह महीने कर दिया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एनटीएजीआई की सिफारिश पर सभी लाभार्थियों के लिए कोविड-19 टीके की दूसरी एवं एहतियाती खुराकों के बीच अंतराल नौ महीने से घटाकर छह महीने कर दिया है।
भूषण ने कहा कि इस सिफारिश पर एनटीएजीआई भी मुहर लगा चुका
इस नयी टीका व्यवस्था के वास्ते कोविन प्रणाली में जरूरी बदलाव किये गये हैं। राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों को बुधवार को लिखे पत्र में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि राष्ट्रीय टीकाकरण तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) की स्थायी तकनीकी उपसमिति की सिफारिश पर यह परिवर्तन किया गया है और उपसमिति भी सामने आ रहे वैज्ञानिक साक्ष्य एवं वैश्विक पद्धति को ध्यान में रखकर इस निष्कर्ष पर पहुंची है। भूषण ने कहा कि इस सिफारिश पर एनटीएजीआई भी मुहर लगा चुका है। उन्होंने कहा, ‘‘ इसलिए, अब यह फैसला किया गया है कि 18 से 59 साल तक की उम्र के सभी लाभार्थियों को दूसरी खुराक के छह माह या 26 सप्ताह के पूरा हो जाने पर निजी कोविड टीकाकरण केंद्रों पर एहतियाती खुराक दी जाएगी।’’
एहतियाती खुराक मुफ्त सरकारी कोविड टीकाकरण केंद्रों पर
स्वास्थ्य सचिव ने कहा, ‘‘ 60 साल से अधिक उम्र के लाभार्थियों तथा स्वास्थ्यकर्मियों एवं अग्रिम मोर्चा कर्मियों के लिए दूसरी खुराक के छह माह या 26 सप्ताह पूरा हो जाने पर एहतियाती खुराक मुफ्त सरकारी कोविड टीकाकरण केंद्रों पर दी जाएगी। ’’ उन्होंने कहा कि इस संबंध में सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी किये जाएं तथा इसका व्यापक रूप से प्रचार किया जाए। उन्होंने सभी राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों एवं प्रशासकों को लिखी इस चिट्ठी में कहा, ‘‘हर घर दस्तक दूसरा अभियान के दौरान कोविड टीकाकरण केंद्रों एवं घरों में सभी पात्र लाभार्थियों को एहतियाती खुराक का लाभ पहुंचाने में मैं आपके सहयोग एवं नेतृत्व को लेकर आशावान हूं। ’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 − 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।