Search
Close this search box.

भारत जापान के साथ व्यापार समझौते की समीक्षा की मांग करेगा : पीयूष गोयल

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल और उनके जापानी समकक्ष के बीच लॉस एंजेलिस में बृहस्पतिवार को होने वाली बैठक के दौरान भारत जापान के साथ व्यापार समझौते की समीक्षा की मांग करेगा।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल और उनके जापानी समकक्ष के बीच लॉस एंजेलिस में बृहस्पतिवार को होने वाली बैठक के दौरान भारत जापान के साथ व्यापार समझौते की समीक्षा की मांग करेगा। जापान के अर्थव्यवस्था, व्यापार और उद्योग मंत्री निशिमुरा यासुतोशी हैं। इस तरह की वार्ताओं में आमतौर पर दो देश अपने संबंधित उत्पादों के लिए अधिक बाजार पहुंच चाहते हैं और उन मुद्दों को हल करते हैं, जो व्यापार में बाधा डाल रहे हैं।
गोयल ने यहां संवाददाताओं से कहा, ”मुझे लगता है कि यह (समीक्षा) काफी समय से लंबित है और मैं जापान के अपने समकक्ष के साथ इस मुद्दे को उठाने जा रहा हूं। उन्होंने अभी कुछ समय पहले नए मंत्री के रूप में पदभार संभाला है। इसलिए मैं इस मुद्दे को उठाऊंगा।”
गोयल से पूछा गया था कि क्या जापान के साथ मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) की समीक्षा की जा रही है, जिसके जवाब में उन्होंने उक्त बात कही। भारत और जापान ने अगस्त 2011 में व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौता (सीईपीए) लागू किया था। इस समीक्षा का महत्व इसलिए है, क्योंकि घरेलू इस्पात उत्पादकों ने जापान से हॉट रोल्ड स्टील और अन्य किस्म के इस्पात उत्पादों के आयात में वृद्धि की कई बार शिकायत की है।
ऑस्ट्रेलिया के साथ व्यापार पर गोयल ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई संसद इस साल के अंत तक व्यापार समझौते को मंजूरी दे सकती है। ऑस्ट्रेलिया के नए व्यापार मंत्री डॉन फैरेल व्यापार और अन्य मुद्दों पर चर्चा करने के लिए इस महीने के अंत में भारत का दौरा कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen + three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।