Search
Close this search box.

अपनी सुविधानुसार यात्री ट्रेन में स्टॉपेज तय कर सकेंगे, कोई भी कर सकता है पूरी ट्रेन बुक

अब प्राइवेट संस्था या कोई भी यात्री एक पूरी ट्रेन को अपने शेड्यूल से ट्रेन को चलवा सकता है। इतना ही नहीं अपनी सुविधानुसार यात्री ट्रेन में सफर और स्टॉपेज तय कर सकेंगे।

अब प्राइवेट संस्था या कोई भी यात्री एक पूरी ट्रेन को अपने शेड्यूल से ट्रेन को चलवा सकता है। इतना ही नहीं अपनी सुविधानुसार यात्री ट्रेन में सफर और स्टॉपेज तय कर सकेंगे।
यात्रियों की मांग के अनुसार अगर किसी के पास इतनी संख्या में यात्री हो जिससे कि एक ट्रेन की जरूरत पड़ जाए तो रेलवे के मुताबिक भारत गौरव यात्रा ट्रेन को कोई भी व्यक्ति या प्राइवेट संस्था इसकी बुकिंग करा सकती है। इसके बाद वो अपना तय शेड्यूल रेलवे को दे सकते हैं ट्रेन उसी के अनुसार चलेगी। यह ट्रेन यात्रा कर रहे यात्रियों के साथ-साथ चलेगी जैसे कि एक डीलक्स बस चलती है। इतना ही नहीं यात्री पसंदीदा भोजन का लाभ भी उठा सकेंगे। इसे कोई भी बुक कर सकता है लेकिन ट्रेन संचालित होने से पहले इसकी पूरी जानकारी पब्लिक डोमेन पर आएगी। इसके लिए बाकायदा एक पैकेज होगा। फिलहाल सिक्योरिटी मनी के तौर पर एक करोड़ डिपॉजिट होता है। उसके बाद रूट को देखते हुए कितनी दूर चलेगी, कहां जाएगी। इसके बाद पूरा खर्चा तय किया जाएगा।
आईआरसीटीसी इस यात्रा के लिए ब्रांड-नई, हाई-टेक भारत गौरव ट्रेन का उपयोग करके यात्रियों उद्यमी या निजी कंपनियों को ये परिवहन प्रदान करेगी। जानकारी के अनुसार भारत गौरव ट्रेन के तहत अब तक दो प्राइवेट ट्रेन चल पायी है। पहली ट्रेन कोयंबटूर से शिरडी तक के लिए और दूसरी यात्रा दिल्ली से जनकपुर तक के लिए चलायी गई थी।
हालांकि भारत गौरव ट्रेन को देश की वास्तविक विरासत और धरोहरों आम लोगों को दिखाने के उद्देश्य से शुरू किया गया है।
अपनी सुविधानुसार आम जनमानस अलग-अलग धार्मिक स्थानों पर आसानी से घूमने जा सके। ये ट्रेनें तीर्थ और पर्यटन स्थलों के दर्शन के लिए निजी कंपनियों और आई आर सीटी द्वारा संचालित थीम आधारित ट्रेनें हैं। इस ट्रेन में दो गार्ड वैन सहित 14 से 20 कोच होंगे। यही नहीं यात्री के पास लग्जरी बजट कोचों का विकल्प भी होगा। वहीं ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों को स्टॉप अवर प्लेसेस पर साइट सीन, फूड, लोकल ट्रांसपोर्ट और होटल की सुविधा भी होगी। इन ट्रेनों में चिकित्सा पेशेवर भी होंगे। यदि किसी यात्री को यात्रा के दौरान कोई स्वास्थ्य समस्या होती है, तो उसे तुरंत चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।
अभी हाल तक आईआरसीटीसी भारत दर्शन ट्रेन का संचालन करती थी। अब क्यों उन्हें बंद कर दिया गया था, इसलिए भारत गौरव ट्रेनें शुरू की गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + thirteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।